कोई भी नवरात्र में ये 7 अशुभ काम न करें,गुस्सा हो सकती है मां…

इस साल चैत्र नवरात्र आठ दिन के रहेंगे यानी 25 मार्च को नवरात्र की अंतिम तिथि रहेगी। नवरात्र देवी पूजा को समर्पित होता है। इन दिनों मां दुर्गा के लिए व्रत-उपवास और पूजा-पाठ करने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

इन दिनों में अधार्मिक कामों से बचना चाहिए। जो लोग नवरात्र में अशुभ काम करते हैं, उन्हें देवी की कृपा नहीं बल्कि नाराजगी का सामना करना पड़ सकता है। उनकी सभी प्रकार पूजा निष्फल हो सकती है। यहां जानिए उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी और भागवत कथाकार पं. सुनील नागर के अनुसार नवरात्र में किन कामों से बचना चाहिए...

1. सुबह देर तक न सोएं

नवरात्र देवी भक्ति का समय है। इन दिनों में सुबह सूर्योदय से पहले ही बिस्तर छोड़ देना चाहिए। जल्दी उठें और देवी दुर्गा की पूजा करें। सुबह देर तक सोने से देवी मां की कृपा नहीं मिल पाती है।

2. स्त्रियों का, गुरु का और वृद्धों का अपमान न करें

नवरात्र देवी की पूजा का महापर्व है। इन दिनों में स्त्रियों का अपमान करने की गलती न करें। स्त्रियों के अपमान से देवी नाराज हो जाती हैं। साथ ही, किसी वृद्ध का अपमान भी न करें। वृद्धों का सम्मान करें। उनके आशीर्वाद से परेशानियां दूर हो सकती हैं।

3. नाखून न काटें

पं. सुनील नागर के अनुसार नवरात्र में नाखून काटने की मनाही है। जो लोग इस बात का ध्यान नहीं रखते हैं, उन्हें देवी के क्रोध का सामना करना पड़ सकता है।

4. दाढ़ी न बनाएं या बाल न कटवाएं

शास्त्रों में कुछ काम ऐसे बताए गए हैं, जिन्हें शुभ दिनों में नहीं करना चाहिए। दाढ़ी बनाना और बाल कटवाना भी उन्हीं कर्मों में शामिल है। नवरात्र के पवित्र दिनों में इस काम भी बचना चाहिए।

5. नशा न करें

शास्त्रों के अनुसार नशा करने वाला व्यक्ति कभी भी देवी-देवताओं की कृपा प्राप्त नहीं कर सकता है। नशा करना एक बुरी आदत है और इससे सभी को बचना चाहिए। खासतौर पर नवरात्र में इस बुराई से दूर ही रहना चाहिए।

Facebook Comments