अचानक नींद खुलने या कुछ समय तक नींद ना लगने की समस्या को करें दूर….

घबराइए नहीं अगर आप कुछ कारणो से अपनी नींद पूरी नहीं कर पा रहे है तो हमारे पास आपके लिए चैन से सोने के उपाय भी मौजूद हैं। 

इस प्रकार की परेशानियां हमारे आचरण से जुड़ी हुई है। किसी भी  समय आपकी नींद का  खुलना, उसी वक़्त आपको संकेत देता है कि आप मानसिक तनाव में हैं। इसके अच्छे और बुरे दोनों संकेत हो सकते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको इन्ही संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें जानना आपके लिए बेहद आवश्यक है।

रात में 9 से 11 के बीच नींद का ना लगना  :

ये सब शुरू होता है हमारे सोने के समय को लेकर जी हां आपके सोने का समय आपकी मानसिक परेशानियों को दर्शाता है। रात में 9 से 11 के बीच का समय सोने के लिए सबसे बेहतर होता हैं। अगर आपकी नींद रात में 9 से 11 बजे के बीच में नहीं लगती तो आप मानसिक तनाव में हैं। आप अपनी चिंता को अपने शरीर पर हावी होने देते हैं। इस चीज से राहत पाने के लिए आपको मेडिटेशन करना शुरू करना होगा। आपको खुशी को अपने चारो तरफ बिखेरना होगा यही आपके तनाव को कम करने में सार्थक साबित होगा।

रात में 11 से 1 के बीच नींद का खुलना   :

अगर आपकी नींद रात में 11 से 1 के बीच में नहीं लगती तो यह सीधा इशारा करता है आपके इमोशनल इस्थिती पर आपको इस आदत से बचने के लिए पवित्र मंत्रो का जाप शुरू करना होगा अथवा आपको दूसरों को माफ करने जैसी आदत डालनी होगी और खुद को स्वीकार करना होगा।

रात में 1 से 3 के बीच नींद का खुलना :

अगर आपकी नींद रात में 1 से 3 बजे के बीच में खुलती है या इस समय नींद का ना लगना आपके लीवर की कमजोरी का संकेत है। इस समय सीमा में आपका जागना आपके गुस्सेल स्वभाव की ओर भी इशारा करता है। इससे बचने के लिए आपको ठंडा पानी पीने और ध्यान करने की जरूरत है। और आप दखेंगे की आपके जीवन में सुख और समृद्धि लौट आएगी।

रात में 3 से 5 के बीच नींद का खुलना :

अगर आपकी नींद रात में 3 से 5 बजे के बीच में अकसर खुलती है तो यह एक संकेत है जिसके अनुसार एक नेगेटिव एनर्जी आपसे संपर्क करना चाहती है। यह एनर्जी आपको हमेशा जागरूक रहने का संकेत देती है। असल में इस समय नींद का ना लगना आपके दुखी मन की ओर इशारा करता है अथवा लंग्स से जुड़ी हुई समस्या भी दर्शाता है। हमारे पास आपकी इस चिंता का भी समाधान है आपको ब्रीथिंग रिलेटेड एक्सरसाइज शुरू कर देनी चाहिए ये आपके लंग्स अथवा मन को शांति देंगी।

सुबह में 5 से 7 के बीच नींद का खुलना :

अगर आपकी नींद रोज 5 से 7 के बीच में खुलती है या नही लगती तो ये आदत दर्शाती है कि आप इमोशनली बहुत कमजोर हैं। ऐसा इसलिए है क्योकि इस समय आपकी एनर्जी का फ्लो बहुत अधिक होता है इस समय आप सबसे जादा एक्टिव हो सकते हो। लेकिन समस्या है तो इलाज़ भी मौजूद है इसमें स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज आपकी मदद करेगी।

यह सब चीज हो सकता है आपकी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में होती हो या ना भी होती हो पर यह छोटी छोटी चीज़े आपके जीवन में एक बदलाव ला सकती है और आपको शांतिपूर्ण तरीके से जीवन बिताने में मदद करेंगी।

 

Facebook Comments