दोनों ने बनाए अवैध संबंध फिर हुआ बवाल…65 साल के BJP नेता को हो गया 22 साल की कांग्रेस नेता से प्यार

एक म’र्डर केस में खुलासे के बाद मध्‍य प्रदेश की राजनीति में हलचल मच गई है। 65 साल के बीजेपी नेता जगदीश करोतिया उर्फ कल्‍लू पहलवान का 22 साल की कांग्रेस नेता ट्विंकल डागरे से अवैध संबंध बन गया। बाद में लड़की बीजेपी नेता के साथ रहने का दबाव बनाने लगी। इसके बाद जगदीश करोतिया के लिए स्थिति बहुत खराब होती चली गई।

बदनामी का डर उन्‍हें खाए जा रहा था। करोतिया के बेटे पिता के अवैध संबंध की बात सुनकर हिल गए, पत्‍नी परेशान रहने लगी और इसके बाद एक मूवी देखी गई- जिसका नाम है दृश्‍यम। इसे देखने रची गई एक म’र्डर की साजिश और उसे अंजाम दिया गया 16 अक्‍टूबर 2016 को।

अवैध संबंधों का पता चलने पर मां करती थी झगड़ा: डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने बताया कि जगदीश करोतिया उर्फ कल्‍लू पहलवान, उसके 38 साल के बेटे विजय करोतिया, 36 वर्षीय बेटा अजय करोतिया और 31 साल के तीसरे बेटे विनय करोतिया और एक साथी नीलू उर्फ नीलेश कश्‍यप को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में इन लोगों ने जो कहानी सुनाई, उसे सुनकर पुलिस अधिकारी हैरान रह गए। पूछताछ में बेटे अजय करोतिया ने बताया कि पिता के ट्विंकल से अवैध संबंध थे। वह पिता के साथ ही रहना चाहती थी। यह बात जब मां को पता चली तो वह झगड़ा करने लगी। परिवार को पिता के पॉलिटिकल करियर की भी चिंता सता रही थी। इसके बाद सभी ने तय किया ट्विंकल को रास्‍ते से हटा दिया जाए।

म’र्डर की पहली साजिश को दृश्‍यम फिल्म की तर्ज पर इस तरह दिया गया अंजाम : ट्विंकल डागरे की हत्‍या का फैसला करने के बाद परिवार के लोगों ने अजय देवगन की सुपरहिट मूवी दृश्‍यम देखी। इसके बाद म’र्डर की फूलप्रूफ प्‍लानिंग की गई। 16 अक्‍टूबर 2014 को सुबह 11 बजे ट्विंकल को घर बुलाया गया। यहां से जगदीश करोतिया बेटे अजय के साथ ट्विंकल को एमआर-10 स्थित नीलू के खेत में पर लेकर चले गए। जगदीश करोतिया उर्फ कल्‍लू पहलवान ने ट्विंकल को पहले समझाया। ट्विंकल नहीं मानी तो कल्‍लू पहलवान ने उसे थप्‍पड़ मारा। ठीक उसी समय पहले से तैयार खडे कल्‍लू के बेटे अजय ने ट्विंकल का रस्‍सी से गला घोंट दिया। कल्‍लू चाहता था कि ट्विंकल को नीलू के खेत में ही दफना दिया जाए, लेकिन इस पर नीलू ने अपत्ति जताई। इसके बाद तीनों ने शव को कपड़े में लपेटा ‘दृश्‍यम’ फिल्म की तरह कार की डिक्‍की में डालकर ट्विंकल को घर ले आए।

मोबाइल को वहां फेंका, जहां तय हुआ था ट्विंकल का रिश्‍ता, पुलिस को मंगेतर पर हो गया शक : ट्विंकल के शव को घर लाने के बाद अगले दिन सुबह पांच बजे तक सभी ने इंतजार किया और उसके बाद कार में शव डालकर सांवेर रोड स्थित अवंतिका नगर में एक प्‍लॉट पर सभी पहुंचे। कल्‍लू ने निगम‍कर्मियों से कहा कि एक पार्षद का कुत्‍ता मर गया है, उसके लिए गड्ढा खोदना है। निगमकर्मी आए और उन्‍होंने गड्ढा खोद दिया। अब ठीक दृश्‍मय मूवी की तरह गड्ढे में कुत्‍ता दफनाया गया और कचरा व लकडि़यों का ढेर एकत्रित कर बेटे- अजय, विजय, विनय ने और शव को जला दिया। दो दिन बाद ट्विंकल की हड्डियां और राख बोरे में भरकर नाले में बहा दिए गए। इसके बाद पुलिस को गुमराह करने के लिए कल्‍लू और उसके बेटों ने पहले से तय प्‍लानिंग के तहत दृश्‍यम फिल्म की तरह ट्विंकल की हत्‍या के दो दिन बाद अजय ने ट्विंकल के मोबाइल को बदनावर में फेंक दिया। यहीं पर ट्विंकल का रिश्‍ता तय हुआ था, इसी वजह से पुलिस को पहला शक ट्विंकल के मंगेतर अमित पर हो गया। दृश्‍यम फिल्म में भले ही पुलिस अजय देवगन को नहीं पकड़ पाई, लेकिन रियल लाइफ में पुलिस ने इस राज का पर्दाफाश कर ही दिया।

Facebook Comments