देशभर के बाद अब मध्य प्रदेश में भी तोड़ी गई अंबेडकर की मूर्ती…

बता दें कि अंबेडकर की मूर्तियां तोड़े जाने की आशंका के चलते ही जिला प्रशासन ने गुरुवार को अंबेडकर की मूर्तियों की सुरक्षा बढ़ा दी थी. इसके बावजूद भी असामाजिक तत्व अपनी हरकत में कामयाब हो गए. 

मूर्ति तोड़ कर देश में अराजकता फ़ैलाने के नए तरीके के ईजाद हो जाने के बाद ये सिलसिला थमता नज़र नहीं आ रहा है. देश के कई हिस्सों में मूर्ति तोड़े जाने के बाद अब ये कृत्य मध्य प्रदेश में भी पहुंच गया है. बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की मूर्ति तोड़ने का  मामला राज्य के भिंड जिले में सामने आया है. जिले में भारत बंद के दौरान हुई हिंसा में तीन लोगों की मौत के बाद से कर्फ्यू लगाया गया था. ताजा घटनाक्रम के बाद एक बार फिर इलाके में तनाव का माहौल है. जानकारी के अनुसार, मेहगांव थाना क्षेत्र में असामाजिक तत्वों ने अंबेडकर की मूर्ती को तोड़ दिया.

इसके बाद से इलाके में एक बार फिर से तनाव फैल गया है. सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने ऐहतियातन मूर्ति को उठवा कर नगर परिषद के कार्यालय में रखवा दिया है. साथ ही मूर्ति तोड़ने वाले आरोपियों की तलाश की जा रही है. बता दें कि अंबेडकर की मूर्तियां तोड़े जाने की आशंका के चलते ही जिला प्रशासन ने गुरुवार को अंबेडकर की मूर्तियों की सुरक्षा बढ़ा दी थी. इसके बावजूद भी असामाजिक तत्व अपनी हरकत में कामयाब हो गए.

राज्य में भारत बंद के दौरान भिंड के अलावा मुरैना और ग्वालियर में भी भारी हिंसा हुई थी. इस हिंसा में आठ लोगों की मौत हो गई थी और सैकड़ों लोग घायल हो गए थे. इसके बाद से ही राज्य के कई इलाकों में तनाव पसरा हुआ है. SC-ST  एक्ट के विरोध में किये गए भारत बंद के दौरान देश भर में हिंसा और आगजनी की घटना हुई थी. वही मूर्ति तोड़ने की ये कथित परंपरा त्रिपुरा में बीजेपी की जीत के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा लेलिन की मूर्ति तोड़कर शुरू की गई थी.

Facebook Comments