अपनाएं वजन घटाने का सबसे आसान तरीका…..

OLYMPUS DIGITAL CAMERA

खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए कई मसाले, तेल और दूसरी चीजें डालकर हम उसके पोषक तत्वों को खत्म कर देते हैं। लेकिन पकाने की कुछ ऐसी विधियां हैं जिनसे अधिक से अधिक पोषक तत्वों को सुरक्षित रखा जा सकता है। इनमें से एक है स्टीमिंग यानी भाप। 

 

भाप में खाना पकाने से पोषक तत्वों को सुरक्षित रखा जा सकता है। सब्जी, चावल, दलिया को जहां तक मुमकिन हो कम पानी में भाप में ही पकाएं। इसमें तेल की जरूरत नहीं होती। वक्त भी कम लगता है और विटामिन व दूसरे पोषक तत्व भी बने रहते हैं। साथ ही इस तरह से तैयार भोजन से अतिरिक्त फैट कम करने में भी मदद मिलती है।

स्टीम्ड फूड यानी भाप में पकी सब्जियों में पौष्टिकता की मात्रा भरपूर रहती है और विटामिन और खनिज की दैनिक खुराक मिलती रहती है। खाना पकाने की इस विधि से कोई पोषक तत्व नष्ट नहीं होता है। पानी से बनी भाप सब्जी को खाने लायक गला देती है।

इसमें अधिक पानी न होने से पानी को सब्जी से अलग भी नहीं किया जाता और सारी पौष्टिकता उसमें समाई रहती है। यह भोजन को फ्राई या ग्रील करने से कहीं बेहतर विकल्प होता है। इस तरह खाना पकाने से न तो उसका स्वाद खराब होता है और न ही फैट बढ़ता है।

स्टीमिंग करने से खाने में कैलोरी कम हो जाती हैं, जिससे हार्ट डिजीज होने का खतरा कम होता है। वहीं, जब भोजन को फ्राई किया जाता है तो उसमें तेल अवशोषित हो जाता है और अधिक फैट व कैलोरी जमा हो जाती है। मांस, चिकन व मछली को पकाने के लिए बहुत कम पानी लें और इन्हें भाप में गला लें। इन्हें न के बराबर मसालों और तेल में पकाएं।

Facebook Comments