3 साल की बच्ची ने अपनी सूझबूझ से ऐसे बचाई पिता की जान

तीन साल की उम्र में जब बच्चे अपने कपड़े नहीं बदल पाते तब एक बच्ची ने बड़ी ही सूझबूझ से अपने पिता की जान बचाकर सबको हैरानी में डाल दिया है। घटना अमेरिका के वर्जीनिया के विंचेस्टर की है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, एक सप्ताह पहले जब 3 साल की मॉली मैक्कैबे देखा कि उसके साथ खेलते खेलते उसके पिता अचानक से फर्श पर गिर गए तो उसे लगा कि शायद पिता कोई दूसरा गेम खेल रहे हैं। लेकिन जब कुछ मिनटों तक उसके पिता फर्श से नहीं उठे बच्ची मॉली ने रोना शुरू कर दिया और डैड से उठने के लिए मिन्नतें करने लगी।

बच्ची के रोने पर भी जब उसके पिता ने कोई जवाब नहीं दिया तो उसने पिता का सेलफोन उठाया और अपनी मां को फोन (वीडियो कॉल)लगा दिया। उसकी मां अपनी ऑफिस में थी। बच्ची की मां ने स्थानीय मीडिया को बताया कि उसकी बेटी शिशक शिशक कर रो रही थी और डैडी, डैडी चिल्ला रही थी।

लेकिन जब बच्ची ने अपने फोन का कैमरा पिता के चेहरे के तरह किया तो उसकी मां को पता चला कि मॉली के पिता तो फर्श पर मुंह के बल पड़े हुए हैं। इसी बीच बच्ची मॉली ने अपनी मां से यह कहना शुरू कर दिया कि मम्मी जल्दी घर आओ। इसके बात मॉली की मां फौरन ऑफिस से निकलकर घर पहुंची और पति की हालत देखकर उन्हें अस्पताल पहुंचाया।

अस्पताल में डॉक्टरों ने बताया कि मॉली के पिता एक धमनी में जोकि दिमाग तक खून पहुंचाती है उसमें थक्का जम चुका है। इस समस्या से ग्रसित लोगों की जान बचने के चांस कम ही होते हैं। लेकिन उन्होंने बिना देरी किए ही उनका इलाज करना शुरू किया और मॉली के पिता की जान बचाने में कामयाब हो गए।

महिला ने मीडिया को बताया कि जिस तरह से चमत्कारिक रूप से उसकी बेटी की वजह से उसके पति की जान बची है वह कभी सोच तक नहीं सकती। क्योंकि बेटी मॉली की उम्र इतनी कम है कि वह पढ़ तक नहीं सकती। वह हैरान है कि बच्ची ने कैसे मोबाइल में अपनी मां का नाम पढ़ा और उसे फोन लगा दिया। मॉली की मां ने बताया कि इससे पहले मॉली ने कभी किसी को फोन नहीं किया था।

Facebook Comments