UPSSC : सीधी भर्ती में जोड़े जाएंगे स्क्रीनिंग परीक्षा के नंबर

लोक सेवा आयोग ने सीधी भर्ती में बड़े बदलाव का फैसला लिया है। अब सीधी भर्ती के जिन पदों के लिए स्क्रीनिंग परीक्षा कराई जाएगी उनमें अंतिम मेरिट लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के अंकों को जोड़कर तैयार होगी। अभी चयन सिर्फ इंटरव्यू के नंबरों के आधार पर ही होता है।

स्क्रीनिंग परीक्षा सिर्फ अभ्यर्थियों की भीड़ कम करने के लिए होती है। शुक्रवार को हुई आयोग की बैठक में यह फैसला लिया गया। अब आयोग अपनी संस्तुति सहित प्रस्ताव शासन को भेजेगा। शासन स्तर पर नियमावली में बदलाव किया जाएगा, उसके बाद ही यह व्यवस्था लागू हो सकेगी।
सीधी भर्ती वह होती है जिसमें चयन इंटरव्यू के आधार पर किया जाता है पर सीधी भर्ती के जिन पदों के लिए आयोग को ज्यादा आवेदन मिलते हैं, उसके लिए स्क्रीनिंग परीक्षा कराई जाती है ताकि परीक्षा के आधार पर अभ्यर्थियों की संख्या कम हो जाए फिर इंटरव्यू आसानी से संपन्न कराए जा सकें। स्क्रीनिंग परीक्षा की ऊपर की मेरिट से पद के सापेक्ष तीन गुना अभ्यर्थियों को बुलाकर इंटरव्यू कराया जाता है। राजकीय इंटर कॉलेजों और डिग्री कॉलेजों के प्रवक्ताओं सहित अन्य कई पदों के लिए स्क्रीनिंग परीक्षाएं होती हैं।

आयोग के सचिव जगदीश ने बताया कि अब स्क्रीनिंग परीक्षा और इंटरव्यू में अभ्यर्थियों को मिले 50-50 प्रतिशत अंकों को जोड़कर मेरिट तैयार होगी। और इसी मेरिट से अंतिम तौर पर चयन किया जाएगा। बकौल सचिव यह बदलाव संघ लोक सेवा आयोग की तर्ज पर किया जा रहा है। सीधी भर्ती की व्यवस्था जानने के लिए आयोग की एक कमेटी संघ लोक सेवा आयोग भेजी गई थी। उसी कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर यह निर्णय लिया गया है।

Facebook Comments