जानें..क्या है इसका महत्व और फायदे, आखिर बृहस्पतिवार को ही क्यों पहने जाते है पीले कपड़े

हमारे हिन्दू धर्म में हर दिन का एक खास महत्व होता है। सप्ताह के सातों दिन अलग-अलग भगवानो से सम्बंधित होते है। जैसे सोमवार के दिन भोलेनाथ की पूजा, मंगलवार के दिन हनुमान जी की वैसे ही बृहस्पतिवार के दिन विष्णु जी (Lord Vishnu) की पूजा होती है।

सभी जानते है कि बृहस्पतिवार (Lord Vishnu) के दिन पीले वस्त्रों को धारण करते है। लेकिन क्या आप जानते है कि बृहस्पतिवार को पीले वस्त्र पहनने से क्या चमत्कार होतें है, आइए जानते है.

रंग हमारे विचारों को प्रभावित करते हैं व हमारी सफलता व असफलता के कारक भी बनते हैं। बृहस्पतिवार के दिन भगवान विष्णु और साईं बाबा की अराधना की जाती है। ऐसा माना जाता है कि दोनों ही देवताओं को पीला रंग पसंद है। इसलिए लोग भगवान को प्रसन्न करने पीला रंग पहनते है।

अगर शादी में रुकावटें आ रही हैं या अच्छे जीवनसाथी की तलाश है तो गुरुवार को पीले रंग का कपड़ा पहनना शुरू कर दें। परिस्थितयां अनुकूल हो जाएंगी।

ज्योतिष की मानें तो जब तक गुरु की कृपा न हो, विवाह नहीं हो पाता यदि किसी लड़की की शादी में विलंब हो रहा है तो उसे गुरुवार को पीले कपड़े पहनने चाहिए।

बृहस्पति, सोने और तांबे जैसी पीले रंग के धातुओं से जुड़ा है साथ ही भगवान विष्णु भी पीले वस्त्र ही धारण करते हैं ऐसे में यदि आप पीले रंग के कपड़े और धातु पहनते हैं तो आपको भगवान विष्णु की विशेष कृपा हासिल होगी।

गुरुवार के दिन उत्तर भारत में जहां विष्णु भगवान की पूजा की जाती हैं, वहीं महाराष्ट्र में साईं बाबा की अराधना होती है ऐसी मान्यता है कि दोनों ही देवताओं को पीला रंग बहुत पसंद है, इसलिए जो व्यक्ति गुरुवार को पीला रंग पहनकर भगवान की पूजा-अर्चना करता है, उसे बहुत लाभ होता है।

Facebook Comments