पीरियड्स में हर महीने लेती हैं दर्द निवारक दवाएं तो जाएं सावधान….

पीरियड्स के दौरान अकसर महिलाओं को दर्द का सामना करना पड़ता है। ऐसे में कई महिलाएं इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए दर्द निवारक दवाओं का इस्तेमाल करती हैं। कई बार तो स्थिति इतनी खराब होती है कि महिलाओं को करीब सातों दिन इन गोलियों का सेवन करना पड़ता है।

मायो क्लिनिक के गेस्ट्रोएंट्रोलॉजिस्ट डॉक्टर साहिल खन्ना के अनुसार हर महीने इस दर्द से निजात पाने के लिए दर्द निवारक दवाओं के इस्तेमाल से पेट का अलसर, एसिड रिफ्लक्स और पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

पेट के अलसर का महीनों और सालों तक पता नहीं चलता है जब कि ये आंतों में ब्लीडिंग नहीं होती और मरीज के स्टूल के जरिए बाहर नहीं आती । यह बदुत ही खतरनाक वाली परिस्थिति हो जाती है।  एक्सपर्ट की मानें तो पीरियड्स के दर्द से निजात पाने के लिए महिलाओं को प्राकृतिक तरीकों की तरफ जाना चाहिए।

डॉक्टर खन्ना की मानें तो लगातार दो दिन दर्द निवारक दवाएं खाना बहुत ही जोखिम भरा हो सकती है और खासकर ये हर दिन और हर महीने एक के बाद एक खाई जा रही हों तो हेल्थ समस्याओं का कारण बन सकती हैं। इससे उन मरीजों को और भी खतरा होता है जो ब्रूफिन और एस्प्रिन पहले से ले रहे हों। इससे बचने के लिए पीरियड्स के दौरान महिलाएं प्राचीन चाइनीस मसाज या फिर हॉट वॉटर की तऱफ जा सकते हैं।

Facebook Comments