आज 14 पैसे बढ़ा पेट्रोल-डीजल का भाव, सरकार बोली- कीमतों को काबू करना हमारे हाथ में नहीं

पेट्रोल डीजल के दामों को लेकर विपक्ष केंद्र सराकर पर हमलावर है. वहीं सरकार की ओर से दलील दी जा रही है कि कीमतों का बढ़ना उसके हाथ में नहीं है. इस बीच आज एक फिर पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी हुई है. आज पेट्रोल-डीजल दोनों की कीमतों मे 14 पैसे की बढ़ोतरी हुई है. इस बढ़ोतरी के बाद राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 80.87 रु/ली और डीजल की कीमत 72.97 रु/ली पर पहुंच गई. बता दें कि वित्त मंत्री अरुण जेटली एक्साइज ड्यूटी घटाने की संभावना से इनकार कर चुके हैं.

आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल 88.26 रु/ली और डीजल 77.47 रु/ली पर पहुंच गया. देश में सबसे महंगा पेट्रोल महाराष्ट्र में ही मिल रहा है. महाराष्ट्र के परभाणी में पेट्रोल 90 का आंकड़ा पार कर गया है. परभणी में एक लीटर पेट्रोल 90.02 रु/ली और डीजल 77.98 रु/ली मिल रहा है. वहीं कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 83 रुपये 75 पैसे, भोपाल में 86 रुपये 62 पैसे, पटना में 87 रुपये 06 पैसे है. वहीं पटना में एक लीटर डीजल की कीमत 78 रुपये 61 पैसे है.

कीमतों को काबू करना हमारे हाथ में नहीं: रविशंकर प्रसाद
पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों पर विपक्षी दलों के हमलावर रुख के बीच केंद्र सरकार ने कहा है कि कीमतें काबू करना हमारे हाथ में नहीं है. केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हमारे समय में तेल की कीमत में कुछ बढ़ोतरी हुई है. यह एक ऐसी समस्या है जिसका निराकरण हमारे हाथों में नहीं है.

कीमतों के खिलाफ विपक्ष का भारत बंद
पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर विपक्ष कल यानी सोमवार को भारत बंद बुलाया था. कांग्रेस पार्टी के भारत बंद को 16 पार्टियों का समर्थन मिला. विपक्ष ने भारत बंद सफल होने का दावा किया तो वहीं बीजेपी ने बंद के नाम पर गुंडागर्दी का आरोप लगाया. भारत बंद के दौरान पटना में सांसद पप्पू यादव की पार्टी की गुंडागर्दी भी देखने को मिली, राजेंद्र नगर में बस, कारें तोड़ीं.

बंद के दौरान गाड़ी नहीं मिलने की वजह से बिहार के जहानाबाद में बच्ची की मौत का मामला भी सामने आया है. बीजेपी ने राहुल गांधी से जवाब मांगा है तो नहीं तेजस्वी यादव ने कहा कि जहानाबाद के ज़िलाधिकारी कह रहे है बच्ची की मौत बंद से नहीं हुई।

2019 में जनता और पूरा विपक्ष मिलकर बीजेपी को हराएगा: राहुल
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और राफेल मामले को लेकर सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला और कहा कि 2019 में विपक्षी दल मिलकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को हराएंगे. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने पिछले साढ़े चार सालों में भारत के लोगों को आपस में लड़ाने का काम किया है.

‘भारत बंद’ के तहत रामलीला मैदान के पास आयोजित विरोध प्रदर्शन में गांधी ने कहा, “2014 में नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने से पहले महिलाओं की सुरक्षा, किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था. जनता ने भरोसा कर उनकी सरकार बनवाई. अब लोगों को साफ़ एहसास हो गया उन्होंने साढ़े चार साल में क्या किया.”

Facebook Comments