पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से जल्द मिल सकती है राहत….

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (IOC) और पेट्रोल डीलर एसोसिएशन के साथ आज होने वाली मीटिंग से अनुमान लगाया जा रहा है कि सरकार, भाजपा शासित राज्यों में वैट कम सकती है।

गौरतलब है कि कर्नाटक चुनाव के खत्‍म होने के बाद से ही पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इस मामले पर मोदी सरकार बैकफुट पर नजर आ रही है। वहीं, विपक्ष के हमले और पेट्रोल और डीजल के दाम रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने के बाद केंद्र सरकार हरकत में आई है।

माना जा रहा है कि पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की बैठक में तेल की कीमतों को कम करने पर चर्चा की जाएगी। इससे पहले धर्मेंद्र प्रधान ने कहा था कि वह आम आदमी को राहत दिलाने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। बता दें, पेट्रोलियम मंत्री मंगलवार को ही बैठक करने वाले थे, लेकिन बाद में इस मीटिंग को टाल दिया गया था।

रिकॉर्ड स्‍तर पर पहुंचा पेट्रोल

सोमवार को पेट्रोल की कीमतों ने 84 का आंकड़ा पार किया था। वहीं, डीजल भी रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया है। इंडियन ऑयल कंपनी के मुताबिक मंगलवार को दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल के लिए आपको 76.87 रुपये चुकाने पड़ रहे हैं। वहीं, मुंबई में यह 84.70 के स्तर पर मिल रहा है। कोलकाता 79.53 प्रति लीटर और चेन्नई में भी यह 80 के करीब पहुंच गया है।

डीजल की बात करें, तो इसने नया रिकॉर्ड बना लिया है। हैदराबाद में एक लीटर डीजल के लिए लोगों को 74.00 रुपये प्रति लीटर चुकाने पड़ रहे हैं। इसके अलावा रायपुर, त्र‍िवेंद्रम और गांधीनगर में इसने 73 का आंकड़ा पार कर लिया है। इसके अलावा कई शहरों में अब यह 70 का आंकड़ा पार कर चुका है। वहीं, दिल्ली की बात करें, तो यहां मंगलवार को एक लीटर डीजल 68.08 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। वहीं, मुंबई में इसके दाम 72.48 रुपये पर पहुंच गए हैं।

Facebook Comments