शिवपाल यादव : अब धर्म युद्ध होगा पीछे हटने का सवाल नहीं

समाजवादी पार्टी से पूरी तरह दूरी बना चुके  शिवपाल यादव ने साफ कर दिया है कि अब पीछे हटने वाले नहीं हैं। पार्टी में अपने विरोधियों पर तीर छोड़ते हुए उन्होंने कहा कि वह अब ‘रावण’, ‘कंस’ व ‘दुर्योधन’ जैसे लोगों से धर्मयुद्ध के लिए तैयार हैं।

समाजवादी सेकुलर मोर्चा बनाने के बाद शिवपाल लखनऊ में पहली बार सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल हुए। शिवपाल ने कहा कि इस युग में भी कुछ लोगों को सत्ता का मद है। महाभारत की तरह अब एक बार फिर धर्मयुद्ध होगा और ऐसे लोगों का अहंकार खत्म किया जाएगा।

श्रीकृष्ण वाहिनी के प्रतिनिधि सम्मेलन में शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि सपा को एकजुट रखने के लिए मैं जो कुछ कर सकता था मैंने किया लेकिन समाजवादी पार्टी को उसकी मूल विचारधारा की ओर लौटने में मेरे सारे प्रयास व्यर्थ साबित हुए। अब समाजवादी सेक्युलर मोर्चा पूरे प्रदेश में अपना विस्तार करेगा। संगठन को सभी जगह तैयार किया जाएगा। अब वह समाजवादी और सेकुलर  मूल्यों के साथ लोकसभा चुनाव में उतरेंगे। उन्होंने कहा कि काफी सोच विचार कर हमने सेक्युलर मोर्चा बनाने का निर्णय किया है। इस मामले पर हमें नेताजी मुलायम सिंह यादव का भी आशीर्वाद मिल गया है। ऐसे में अपने कदम वापस लेने का कोई सवाल ही नहीं है।

सपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल ने कहा कि हमारे साथ  पूर्व मंत्री कमाल यूसुफ , पूर्व सांसद रघुराज सिंह शाक्य समेत तमाम बड़े नेता हमारी ओर आ रहे हैं।  हम अब लोकसभा में अपने 80 प्रत्याशी उतारने की योजना में लगे हैं। उन्होंने कहा कि हम तो सिर्फ सम्मान के भूखे हैं। हमने तो  पार्टी में भी सिर्फ नेताजी के लिए सम्मान मांगा था।

श्रीकृष्णवाहिनी ने राजनीतिक मैदान में दिया समर्थन

श्रीकृष्ण वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष विजय यादव ने बताया कि अभी तक संगठन सामाजिक तौर पर कार्य कर रहा है। जिसके संरक्षक शिवपाल सिंह यादव हैं। जब शिवपाल समाजवादी सेक्युलर मोर्चा बनाकर राजनीतिक मैदान में उतर आए हैं तो यह संगठन भी उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चुनाव में समर्थन, रणनीति और प्रचार करेगा। सम्मेलन में सामाजिक उद्योग व्यापार मंडल के अध्यक्ष रामबाबू रस्तोगी ने भी सेक्युलर मोर्चा को समर्थन देने का ऐलान किया। वहीं निषाद संघ, सामाजिक न्याय मोर्चा और यादव सेना जैसे संगठनों ने भी समर्थन दिया है। सम्मेलन में संगठन के प्रदेश महासचिव अशोक यादव, अनिल वर्मा, विशाल निगम समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

Facebook Comments