PNBने खातों के मिलान के लिए शुरू किया artificial intelligence

BANK में खातों के मिलान के लिए artificial intelligence की मदद लेनी शुरू कर दी है। PNB ने fraud के बाद अब कड़ा कदम उठाने का फैसला किया है। 

अपने एफएक्यू (अक्सर पूछे जाने वाले सवाल) दस्तावेजों में बैंक ने कहा है कि, PNB ने आंतरिक ऑडिट को मजबूत करने के लिए पहले ही उपाय किए हैं। इसके साथ ही बैंक ग्राहक सेवा और ग्राहक जवाबदेही में सुधार के लिए IA की तैनाती पर भी विचार कर रहा है।

बैंक ने कहा, कि खातों में मिलान के लिए एनालिटिक्स और एआई को शामिल करना ऑडिट प्रणाली को बेहतर बनाने का कदम है। फिनेकल 10 की तैनाती की गई है और बैंक इसकी अतिरिक्त सेवाओं का भी लाभ उठाने को तत्पर है। नीरव मोदी मामले पर बैंक का कहना है कि उसकी प्रणाली में इस तरह के मामलों पर जीरो टॉलरेंस हैं।

एफएक्यू दस्तावेजों के मुताबिक, बैंक का कहना है कि गीतांजलि समूह द्वारा 942 करोड़ रुपये के अतिरिक्त घोटाले की सूचना नहीं है, बल्कि यह वापस ली गई ऋण सीमा है।

 

Facebook Comments