उड़े पुलिस के होश-इंस्पेक्टर साहब ही करवा रहे थे लड़कियों से जिस्मफरोशी

यहां के शास्त्रीनगर में एक मसाज पॉर्लर के अंदर देह व्यापार का धंधा चल रहा था। पुलिस के होश उस वक्त उड़ गए जब पता चला कि इस मसाज सेंटर को कोई और नहीं बल्कि एंटी करप्शनल विभाग मेरठ में तैनात इंस्पेक्टर विजयवीर चला रहा था। 

पुलिस ने मौके से एंटी करप्शन विभाग मेरठ में तैनात इंस्पेक्टर विजयवीर, फर्म रजिस्ट्रेशन विभाग में तैनात बाबू अशोक शर्मा, बीबीए के छात्र अमजद उर्फ अमन सहित तीन युवतियों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि अमिताभ भारद्वाज नाम के एक शख्स के मकान में यह मसाज पार्लर चल रहा था, जो खुद को सुप्रीम कोर्ट का वकील बताता है। हालांकि अमिताभ भारद्वाज फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

पुलिस ने देह व्यापार अधिनियिम की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस रैकेट को चलाने में इंस्पेक्टर विजयवीर के साथ अमजद उर्फ अमन और अमिताभ दे रहा था। अमजद एक वाट्सएप ग्रुप के जरिये सब ग्राहकों को सारी सूचनाएं दिया करता था। मसाज के लिए पंद्रह सौ-दो हजार रुपये लिया करते थे और इससे अलग जिस्मफरोशी के काम के लिए पांच हजार रुपये तक लिए जाते थे।

Facebook Comments