Makar Sankranti 2019 : मकर संक्रांति का महत्व और पूजा विधि, जानें दान के नियम

पूरे देश में मकर संक्रांति की धूम देखने को मिलती है। इस पर्व को लोग एक खास त्योहार के रूप में मनाते हैं। हर वर्ष 14 या फिर 15 जनवरी को मकर संक्रांति का त्योहार लोग बड़े ही श्रद्धा के साथ मनाते हैं।

बता दे कि साल 2019 में सूर्य मकर राशि में 14 जनवरी को शाम के समय प्रवेश कर रहे हैं। वहीं, सूर्योदय के अनुसार सूर्य 15 जनवरी को प्रातः मकर राशि में होंगे। उदया तिथि के अनुसार मकर संक्रांति 15 को ही मनाना आपके लिए अच्छा होगा। गौरतलब है कि पुण्यकाल 14 जनवरी को शाम को शुरू हो जाएगा। आप चाहे तो 14 तारीख को शाम में भी स्नान कर सकते हैं और 15 तारिख को दिन भर स्नान और दान भी कर सकते हैं।

मकर संक्रांति से जुड़ी खास बातें यहां

  • साल 2019 में मकर संक्रांति पर शुक्र और बृहस्पति का सम्बन्ध देखा जा सकेगा
  • साथ ही साथ चन्द्रमा और सूर्य का भी केंद्रीय सम्बन्ध भी होगा।
  • वहीं, शनि भी बृहस्पति की राशि में विद्यमान रहेंगी।
  • ध्यान रहे कि अगर इस दिन आप स्नान, दान और ध्यान करते हैं तो आपको विशेष लाभ हो सकता है।
  • यही नहीं, इस विशेष दिन किए गए विशेष प्रयोग आपकी कुंडली के दुर्योगों से निजात मिला सकता है।

मकर संक्रांति की पूजा विधि

  • सुबह-सुबह सबसे पहले आप नहा लें और फिर भगवान सूर्य को अर्घ्य दें।
  • श्रीमदभागवद के एक अध्याय का पाठ ज़रूर करें या फिर गीता का पाठ करें।
  • नए अन्न, कम्बल, तिल और साथ ही घी का दान करें।
  • इस दिन भोजन में नए अन्न की खिचड़ी याद से बनाएं।
  • अब आप भोजन भगवान को समर्पित करें और फिर उन्हें प्रसाद के रूप में ग्रहण करें।

मकर संक्रांति पर दान के नियम और लाभ

  • आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मकर संक्रांति के खास दिन पर किया हुआ दान अक्षय बहुत फलदायी माना जाता है।
  • प्रातःकाल स्नान करें और सूर्य को जल दें।
  • फिर पूजा उपासना भी करें।
  • इसके बाद अन्न का, घी का और वस्त्र का दान अवश्य करें।
  • चावल, दाल, सब्जी, नमक और घी यानी कि खिचड़ी का दान सबसे ज्यादा शुभ माना जाता है।
  • इस दिन शनि देव के लिए प्रकाश का दान करना भी बहुत लाभदायी माना गया है।

अगर आपके घर में बड़े बुजुर्ग होंगे, तो आपको मकर संक्रांति के शुभ दिन की शुरुआत दही, चुड़ा व तिलकुट खाने के साथ करने को कहते होंगे और यह वाकई में बहुत लाभदायक माना जाता है आपके स्वास्थ्य के लिए भी और आपके किस्मत के लिए भी। हमारे हिंदू धर्म में ऐसी मान्यता है कि नए साल का आगमन दरअसल मकर संक्रांति के दिन से ही होता है, इसलिए लोग इस पर्व को बहुत ही पवित्र मानते हैं और पूरे विधि विधान के साथ इस दिन पूजा करते हैं।

हम आशा करते हैं कि वेद संसार द्वारा बताए गए मकर संक्रांति का महत्व व लाभ आपके पूजा को सफल बनाने में मदद करेगा। वेद संसार और हमारी पूरी टीम की ओर से आप सभी को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं।

Facebook Comments