हार से परेशान सोनिया भाषण के दौरान लगी रोने, राहुल ने दी जादू की झप्पी

अखिल भारतीय कांग्रेस के 84वें महा अधिवेशन में आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोन‍िया गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर भड़ास निकाली। सोनिया ने पीएम पर सीधा हमले बोलते हुए कहा कि ‘सबका साथ, सबका विकास’ और ‘न खाऊंगा न खाने दूंगा’ जैसे नारे सिर्फ नाटक थे और सत्ता हथियाने की चाल थी।

सोनिया के भाषण से कार्यकर्ताओं में भरा जोश
सभा को संबोधित करने के बाद सोनिया गांधी भावुक हो गई और वह जैसे ही मंच से नीचे उतरी तो राहुल गांधी ने उन्हे गले लगा लिया। इस दौरान महा अधिवेशन का माहौल गनमीन हो गया। वहां मौजदू कार्यकर्ताओं ने राहुल और सोनिया के लिए तालियां बजाई। अपने भाषण में सोनि‍या ने कहा कि‍ राहुल ने चुनौतीपूर्ण समय में ज़िम्मेदारी संभाली है। हम सभी को निजी अहम और आकांक्षाओं को किनारे रखकर एकजुट होकर उनका साथ देना होगा। उनके अनुसार कांग्रेस एक दल नहीं एक सोच है, आंदोलन है।

सत्ता के अहंकार के सामने नहीं झुकेगी कांग्रेस
यूपीए अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस सत्ता के अहंकार के सामने कभी नहीं झुकेगी। हम मोदी सरकार के भ्रष्टाचार का खुलासा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने राष्ट्र निर्माण में सबसे ज़्यादा योगदान दिया है। अब कांग्रेस अध्यक्ष और हम सबके सामने चुनौती आसान नहीं है, हमें संघर्ष करना होगा। सोन‍िया ने कहा कि आज भी लोगों के दिलों में कांग्रेस के लिए प्यार जिंदा है। मौजूदा मोदी सरकार यूपीए के कार्यकाल में बनाई गई तमाम योजनाओं को तबाह करने पर उतारू है।

Facebook Comments