भारतीय railway की लापरवाही,यात्री के नाश्ते में जीवित कीड़ा निकला….

दरअसल, कालका-दिल्ली शताब्दी में एक यात्री ने सुबह का नाश्ता आर्डर किया तो उसमे ज़िंदा कीड़ा निकला।

खबर के मुताबिक एक यात्री के नाश्ते में एक जीवित कीड़ा निकल आया। यात्री ने इसकी शिकायत की तो चंडीगढ़ उपभोक्ता विवाद निवारण फोरम ने भारतीय रेलवे पर 10,000 रुपये मुआवजे के रूप में भुगतान करने का आदेश दिया। इसके अलावा चंडीगढ़ सेक्टर 21 निवासी को टिकट की कीमत के हिस्से के रूप में लिए गए कैटरिंग के 270 रुपए भी वापस करने का आदेश दिया है।

खराब खाने की वजह से रेलवे की फजीहत का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी ऐसे काफी मामले सामने आ चुके हैं जब यात्रियों के खाने में कीड़े निकले हैं। 3 जुलाई, 2016 को चंडीगढ़ से नई दिल्ली में अपने दो बेटों के साथ यात्रा कर रही शालिनी जैन के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ था। उन्होंने भी इसकी शिकायत की थी।

शिकायत में यह भी कहा गया था कि कर्मचारियों ने जैन को भोजन का एक और पैकेट दिया, लेकिन वह और उनके बेटों ने इसे स्वीकार नहीं किया। साथ ही, जब उसने टीटीई सहित ट्रेन कर्मचारियों से शिकायत दर्ज कराने के लिए रजिस्टर देने को कहा तो उन्होंने इनकार कर दिया। इस घटना के बाद जैन ने कहा कि उन्होंने 12 अक्टूबर, 2016 को रेल मंत्री को शिकायत भी भेजी थी, लेकिन कोई उचित जवाब नहीं मिला।

 

Facebook Comments