राजकुमार राव की फिल्म ‘न्यूटन’ को मिला नेशनल अवार्ड….

राजकुमार राव की फिल्म ‘न्यूटन’ को ऑस्कर के नॉमिनेट कर लिया गया था लेकिन फिल्म फिल्म अंतिम पांच में अपनी जगह नहीं बना पाई वहीं हाल ही में न्यूटन को बेस्ट हिंदी फिल्म के लिए नेशनल अवार्ड दिया गया हैं।

बता दें कि राजकुमार राव न्यूटन फिल्म की शूटिंग के दौरान जब छत्तीसगढ़ के जंगलों में शूटिंग कर रहे थे तभी उनकी मां का देहांत हो गया। घनें जंगलों में शूंटिग के दौरान मोबाइल नेटवर्क भी बिलकुल ठप थे, जिसके चलते राजकुमार राव को उनकी मां के देहांत की खबर भी देरी से मिली। राजकुमार राव अपनी मां से बेहद करीब थे।

राजकुमार राव अपने काम को लेकर कितने डेडिकेट है ये सब जानते हैं। न्यूटन की कहानी छत्तीशगडड़ का हलात को दर्शाता है। कहानी भारत के चुनाव सिस्टम पर बेस्ड है। उन्होंने अपनी मां को अंतिम विदाई देने के बाद वापस शूटिंग पर लौट आए। वैसे एक्टर अपनी पर्सनल लाइफ को कम ही जिक्र करते है लेकिन उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि कैसे उन्होंने अपनी माँ को आखिरी बार देखा था।

 

राजकुमार को उनकी मां से बेहद लगाव था। राजुकमार ने अगले ही दिन शूटिंग में जाने का फैसला कर दिया। राजुकमार को शूटिंग पर देख टीम मेम्बेर्स काफी हैरान थे। उन्हें लगा की राजुकमार को फिल्म पर लौटने में कुछ समय लग सकता हैं लेकिन माँ की अग्नि को देकर वो वापस अपने शूटिंग पर लौट आये थे।

राजकुमार चाहते तो कुछ दिन और रूक सकते थे लेकिन उन्होंने काम पर वापस जाना सही समझा उन्होंने बताया कि अगर मैं एक दिन रूकता तो फिल्म को काफी नुकसान पहुंचता। उन्होंने कहा कि मां के निधन के बाद मेरे लिए शूटिंग करना बेहद मुश्किल था लेकिन मैं ये सोच कर करता कि वो मुझे काम करता देख बहुत होती है। वो यही तो चाहती थी मुझे टिवी पर देख उनकी आंखें हमेशा नम हो जाती थी।

 

Facebook Comments