दी जान से मारने की धमकी, पिता के दोस्तों ने किया नाबालिग का दुष्कर्म

आश्रयगृह, अनाथालय और अब घर। बेटियां कहीं भी सुरक्षित नहीं हैं। दिल्ली में सोमवार को एक ऐसी ही घिनौनी घटना सामने आई है जहां एक नाबालिग की अस्मत उसके पिता के तीन दोस्त उसी के घर पर ही लूटते रहे। आरोपियों ने लड़की को जान से मारने की धमकी दी थी। इसलिए उसने डर के कारण किसी को कुछ नहीं बताया। हालांकि परेशान होकर नाबालिग ने गत शनिवार को अपनी चाची को इस बारे में बताया और फिर पुलिस को सूचना दी। जानकारी मिलते ही पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।.

जानकारी के अनुसार, उत्तम नगर इलाके में एक नाबालिग किशोरी से उसके पिता के तीन दोस्तों ने ही दुष्कर्म कर दिया। आरोपियों ने पिता को बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी और दुष्कर्म के बाद वहां से चले गए। आरोपियों ने अलग अलग दिनों में वारदात को अंजाम दिया था। जिससे परेशान होकर किशोरी ने अपनी चाची को वारदात के बारे में बताया। परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने किशोरी के बयान पर केस दर्ज कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान 57 वर्षीय विनोद, 52 वर्षीय भगवान दास और 49 वर्षीय सुभाष के रूप में हुई है। फिलहाल पुलिस ने तीनों को जेल भेज दिया है। बतादें कि हाल में बिहार और उत्तरप्रदेश में आश्रय गृह में हुए मामलों के बाद बच्चियों की सुरक्षा पर सवाल उठे थे।

किशोरी अपने परिजनों के साथ उत्तम नगर इलाके में रहती है। माता-पिता का तलाक हो चुका था, जिसके बाद किशोरी अपने पिता और चाचा-चाची के साथ रहती है। पीड़िता ने अपने बयान में बताया है कि तीनों आरोपी उसके पिता के जानकार हैं। ऐसे में वह बच्ची को भी जानते हैं और उनके घर आते हैं। कई दिनों पहले एक आरोपी ने किशोरी को अकेला पाकर वारदात को अंजाम दिया था। आरोपी ने अपने दोनों दोस्तों को इसके बारे में बताया, जिसके बाद अन्य दोनों आरोपियों ने अलग अलग दिनों पीड़िता के घर जाकर दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। आरोपी पीड़िता के घर तब जाया करते थे, जब वह अकेली होती थी। शनिवार को पीड़िता ने परेशान होकर अपनी चाची को आपबीती बताई।

Facebook Comments