नीजि बस कंडेक्टर ने विवाहिता के साथ किया बलात्कार….

विवाहिता को अकेले देखकर चालक समेत बस के चार स्टाप पहले छेड़खानी करना शुरू किये थे। बाद में कंडेक्टर ने वारदात को अंजाम दिया। मामले में पुलिस ने चारों आरोपितों को रात में छापेमारी करके गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गये आरोपी गाजीपुर और आजमगढ़ के रहने वाले हैं।

थाना क्षेत्र के गजियापुर बंधे के नीचे मंगलवार की रात साढ़े दस बजे नीजि बस कंडेक्टर ने विवाहिता के साथ बलात्कार किया। विवाहिता मुहम्मदाबाद गोहना से दवा लेकर बस में घर आने के लिये सवार हुई थी। मधुबन दुबारी मोड़ पर सभी यात्री उतर गये थे।

मधुबन थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी 29 वर्षीय विवाहिता अपनी दवा को लेने के लिये मुहम्मदाबाद गोहना गई थी। यहां से वाराणसी से गजियापुर आने वाली निजी बस में शाम को सवार हुई। बस मधुबन मोड़ पर रात साढ़े नौ बजे पहुंची तो सभी सवारी उतर गये। बस में चालक, कंडेक्टर और दो स्टाप रह गये थे। जैसे ही यहां से बस गजियापुर के चली तो इसमें सवार बस के स्टाप ने विवाहिता के साथ छेड़खानी करना शुरू कर दिया।

महिला इनका विरोध करती रही। बस जब गजियापुर बंधे के पास पहुंची तो कंडेक्टर अमन उर्फ कलुवा निवासी कम्हरिया थाना खरिहानी जनपद आजमगढ़ ने महिला को बस से जबरन खींचते हुये बंधे के नीचे ले गया। यह देखकर पास में मौजूद चालक व तीन अन्य स्टाफ भाग निकले। बंधे के नीचे कंडेक्टर ने विवाहिता के साथ बलात्कार किया।  इसके बाद वह जैसे ही बस से कंबल लाने के लिये बंधे पर चढ़ा की विवाहिता ने चिल्लाना शुरु किया। शोर सुनकर पास पड़ोस के ग्रामीण मौके की ओर दौड़ पड़े। यह देखकर कंडेक्टर भाग निकला।

ग्रामीण विवाहिता को बेसुध अवस्था में लेकर चौकी दुबारी पर आ गये। घटना को देखते ही पुलिस के होश उड़ गये। मामले में पुलिस ने बस के कंडेक्टर, चालक समेत चार आरोपितों को गाजीपुर और आजमगढ़ में छापेमारी कर गिरफ्तार कर लिया। पूरी घटना ने लोगों को दहशत में ला दिया है।

बस में सवार विवाहिता जब दुबारी मोड़ पर पहुंची तो कोई सवारी नहीं मिलने को देखकर ससुराल जाने का इरादा बदल दिया। बस मायके के समीप जाने को लेकर सवार होकर चल दी थी। बस में अकेले देखकर विवाहिता को पहले तो बस के चालक और स्टाप ने पूरी तरह से सुरक्षा का हवाला दिया। लेकिन बाद में इनकी नियत बदल गई। कंडेक्टर को बंधे के नीचे विवाहिता को ले जाते समय चालक समेत अन्य तीन स्टाप मौके से भाग निकले।

दुबारी मोड़ से अकेले होने के बाद से ही कंडेक्टर समेत अन्य चार स्टाप ने विवाहिता के साथ छेड़खानी करनी करनी शुरू कर दी। विवाहिता कई बार बस से भागने के लिये प्रयास की, लेकिन इसे नहीं जाने दिया गया। विवाहिता को जान से मारने की धमकी भी दिया गया। महिला बस से उतारने की बार बार कंडेक्टर समेत चारो स्टाप से गुहार करती रही। लेकिन यह नहीं माने। पुलिस ने बस को भी कब्जे में ले लिया है।

Facebook Comments