रावण की मृत्यु के बाद मंदोदरी ने विभीषण से क्यों विवाह कर लिया

जैसे की हम सब जानते है की मंदोदरी लंका के राजा रावण की पत्नी थी पर क्या आप यह बात जानते है की राम के हाथो रावण मारे जाने के बाद मंदोदरी का क्या हुआ? जी नहीं, तो हम बताते है की रावण के मरने के बाद रावण के भाई विभीषण से किया था विवाह, तो चलिए जानते है इनके पीछे की पूरी कहानी.

कुछ पौराणिक मान्यताओं के अनुसार मंदोदरी महान ऋषि कश्यप के पुत्र मायासुर की पुत्री थी और मंदोदरी की माता का नाम रंभा था जो की स्वर्ग की अप्सरा थी.

रावण और मंदोदरी के विवाह से पहले जब रावण एक बार मायासुर से मिलने के लिए गया तब मंदोदरी को देखकर रावण मोहित हो गया और उनसे विवाह करने की इच्छा जाहिर की उसके बाद रावण और मंदोदरी का विवाह हुआ.

उनके विवाह के बाद उनकी तिन संताने हुई जिसमे मेघनाद, अक्षयकुमार और अतिकाय. जब राम ने रावण का वध किया तभी रावण के छोटे भाई विभीषण को लंका का राजा बना दिया और मंदोदरी को विभीषण से विवाह करने की सलाह भगवान राम ने दी.

इसके लिए पहले मंदोदरी तैयार नहीं हुई पर राम जी के समजने के बाद मंदोदरी विभीषण से विवाह करने के लिए तैयार हो गयी और इसी तरह विभीषण और मंदोदरी का विवाह दुबारा हुआ.

Facebook Comments