भारत बना दुनिया का छठा सबसे अमीर देश….

अफ्रोएशिया बैंक वैश्विक संपत्ति पलायन समीक्षा की रिपोर्ट के मुताबिक, लिस्ट में अमेरिका 62,584 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ पहले नंबर पर है। इसके बाद 24,803 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ चीन दूसरे और 19,522 अरब डॉलर के साथ जापान तीसरे स्थान पर है।

बता दें कि रिपोर्ट में किसी देश के हर व्यक्ति की कुल निजी संपत्ति को आधार माना गया है। टॉप 10 में शामिल अन्य देशों में ब्रिटेन की कुल संपत्ति 9,919 अरब डॉलर, जर्मनी की कुल संपत्ति 9,660 अरब डॉलर, ऑस्ट्रेलिया की कुल 6,142 अरब डॉलर, कनाडा की कुल संपत्ति 6,393 अरब डॉलर, फ्रांस की कुल संपत्ति 6,649 अरब डॉलर और इटली की कुल संपत्ति 4,276 अरब डॉलर है।

रिपोर्ट के अनुसार, भारत में संपत्ति बनने का कारण बिजनेसमैन की बढ़ती काफी संख्या, अच्छी शिक्षा प्रणाली, जबदस्त IT टेक्नोलॉजी में ग्रोथ, कारोबारी प्रक्रिया आउटसोर्सिंग, रियल एस्टेट, हेलथकेयर और मीडिया क्षेत्र शामिल है। पिछले 10 वर्ष में इनकी संपत्ति में 200 गुना तेजी दर्ज की गई है.

रिपोर्ट के अनुसार विश्व में अभी 1.52 करोड़ ऐसे लोग हैं जिनकी संपत्ति 10 लाख डॉलर से अधिक है। रिपोर्ट के मुताबिक, 2027 तक भारत, ब्रिटेन और जर्मनी को पछाड़ विश्व का चौथा सबसे धनी देश बन जाएगा।

Facebook Comments