दुनिया का छठा सबसे अमीर देश बन गया भारत….

जी हां, आपको जानकर खुशी होगी कि हमारा देश दुनिया के तकरीबन 200 देशों में से छठा सबसे अमीर देश बन गया है। भारत की कुल दौलत 8,230 अरब डॉलर से ज्यादा आंकी गई है। ये खुलासा एफ्रेशिया बैंक ग्लोबल वेल्थ माइग्रेशन रिव्यू की रिपोर्ट में हुआ है।

एफ्रेशिया बैंक ग्लोबल वेल्थ माइग्रेशन रिव्यू की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, इस लिस्ट में अमेरिका पहले स्थान पर कायम है। उसकी कुल दौलत 62 हजार अरब से भी ज्यादा है। वहीं दूसरे नंबर पर चीन और तीसरे नंबर पर जापान है। रिपोर्ट के अनुसार, अगले 10 सालों में दुनिया भर की दौलत 50 प्रतिशत बढ़ जाएगी।

रिपोर्ट के मुताबिक, 2027 तक भारत कुल दौलत के मामले में जर्मनी और ब्रिटेन से भी आगे निकल जाएगा। यानी अगले दस वर्षों में भारत दुनिया का चौथा सबसे बड़ा पूंजी बाजार बन जाएगा। देश में नए उद्यमियों की बढ़ती संख्या, बेहतर शिक्षा प्रणाली, उन्नत तकनीकों का इस्तेमाल, बिजनेस आउटसोर्सिंग, रियल एस्टेट, स्वास्थ्य सेवा और मीडिया क्षेत्र के चलते दस वर्षों में देश की कुल दौलत में तकरीबन 200 फीसद इजाफा होगा।

फिलहाल दुनिया की कुल दौलत लगभग 215 लाख करोड़ रुपये है। अगले दस वर्षों में इसके 50 फीसद बढ़कर 321 लाख करोड़ डॉलर हो जाने की संभावना है। दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाले पूंजी बाजारों में भारत समेत श्रीलंका, वियतनाम, चीन, मॉरीशस को शामिल किया गया है। बता दें कि दुनिया के हर देश में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति की निजी दौलत को मिलाकर कुल दौलत कहा जाता है। इसमें उनके ऋणों को हटाकर बचने वाली संपत्ति (प्रॉपर्टी, नकद, शेयर व फंड और व्यापार में लाभ) शामिल होती है। कुल दौलत में सरकारी खजाने को शामिल नहीं किया जाता है।

Facebook Comments