शरीर के आर-पार हो गया सरिया फिर भी बच गई जान…साईं का चमत्कार

20 घंटे बाद सलीम का आॅपरेशन शुरू किया गया और आखिरकार शरीर के आरपार हुआ सरिया निकालकर डॉक्टरों ने उसे नई जिंदगी दे दी। सरिया निकालने के बाद सलीम की स्थिति सामान्य है और उसे निगरानी में रखा गया है। 

कहते हैं कि ‘जाको राखे साइयां, मार सके न कोय’ जिसकी रक्षा स्वयं ईश्वर करते हैं उसका कोई बाल बांका भी नहीं कर सकता। यह कहावत एक बार फिर सच साबित हुई है। मौत के मुहं से आए एक मजदूर ने जीने की आशा ही छोड़ दी थी लेकिन डाक्टरों ने जो कर दिखाया वो किसी करिश्मे से कम नहीं था। दरअसल नासिक में बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन के दौरान 9 फीट नीचे स्लैब में गिरे मजदूर की जांघ से घुसा सरिया उसके दाएं कंधे से बाहर निकल गया था। डाक्टरों ने 5 घंटे की कड़ी मेहनत के बाद सरिए को उसके शरीर से बाहर निकाल दिया।
PunjabKesari
जानकारी के अनुसार नासिक के लासलगांव का रहने वाला सलीम शेख (33) पेशे से मजदूर हैं। वह हर दिन की एक निर्माणाधीन इमारत पर काम कर रहा था तभी वह अचानक नीचे गिर गया। जमीन पर पड़ा सरिया उसके जांघ में घुसकर लिवर, इन्टेन्स्टाइन और फेफड़े को पार करते हुए दाएं कंधे से बाहर निकल गया। उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मुंबई के जेजे अस्पताल भेज दिया। सलीम  200 किमी की दूरी तय कर अस्पताल पहुंच जहां उसकी हालत देख डाक्टर भी हैरान रह गए।
PunjabKesari
4 फुट की सरिया सलीम की आंतें, लिवर, फेफड़े और पेट के बीच की लेयर को छेदते हुई निकल गई थी। ऐसे में इसे निकालना काफी मुश्किल था। इसे निकालने के लिए 10 डॉक्टरों की एक टीम बनाई गई। 20 घंटे बाद सलीम का आॅपरेशन शुरू किया गया और आखिरकार शरीर के आरपार हुआ सरिया निकालकर डॉक्टरों ने उसे नई जिंदगी दे दी। सरिया निकालने के बाद सलीम की स्थिति सामान्य है और उसे निगरानी में रखा गया है।

Facebook Comments