3 दिन में 2 गुरुद्वारों से उठा ले गए गोलक, महानगर में बेखौफ घूम रहे हैं चोर-लुटेरे

पिछले 3 दिनों में कमिश्नरेट के थाना रामा मंडी सूर्या एन्क्लेव के अधीन पड़ते 2 गुरुद्वारों से चोरों द्वारा उड़ाई गई चढ़ावे वाली गोलकों से साफ जाहिर होता है कि महानगर में चोर-लुटेरे कमिश्नरेट पुलिस से बेखौफ होकर घूम रहे हैं और सरेआम वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। उक्त वारदातें दोनों गुरुद्वारों में लगे हुए सी.सी.टी.वी. कैमरों में कैद होने के बावजूद भी थाना रामा मंडी की पुलिस चोरों को पकडऩे में नाकाम साबित हुई है।

पहली घटना थाना रामा मंडी के बिल्कुल साथ लगता गुरुद्वारा गुरु गोङ्क्षबद सिंह एवेन्यू में 3 दिन पहले हुई। जहां से चोरों ने गोलक उठाई और उसमें से चढ़ावे के करीब 80 हजार रुपए निकालने के बाद गोलक को गुरुद्वारा के बाहर ही कुछ दूरी पर खड़े गंदे पानी के पास फैंक दी जोकि मौके पर पहुंचे थाना रामा मंडी के ए.एस.आई. जङ्क्षतद्रवीर सिंह व जर्मनजीत सिंह ने बरामद भी कर ली थी। इसके अलावा गुरुद्वारे के प्रधान मस्सा सिंह व ग्रंथी बलविंद्र सिंह लखनकलां ने सी.सी.टी.वी. कैमरे की फुटेज भी पुलिस को सौंप दी थी। ये वारदात अभी पुलिस ट्रेस भी नहीं कर पाई थी कि चोरों ने थाना रामा मंडी के ही अधीन आते बेअंत नगर के गुरुद्वारा साहिब को उक्त वारदात के 2 दिन बाद ही अपना निशाना बना लिया। चोर रात को 2 बजे के करीब गुरुद्वारे में दाखिल हुए और गुरुद्वारे के हाल में पड़ी हुई चढ़ावे वाली गोलक को उठाकर उसी हाल में 20-25 फुट की दूरी पर ले गए और उसका ताला तोड़कर उसमें से करीब 40 हजार रुपए चढ़ावे के निकाल लिए। गुरुद्वारे के ग्रंथी सज्जन सिंह ने सुबह 4.30 बजे गुरुद्वारे में आकर जब चढ़ावे वाली गोलक को अपने स्थान पर नहीं देखा तो उनके होश फाख्ते हो गए। उन्होंने नजर घुमाई तो गोलक हाल में ही एक कोने पर पड़ी देखी जिसका ताला टूटा हुआ था और चढ़ावा गायब था।

चोरी की सूचना मिलते ही गुरुद्वारे के प्रधान दलजीत सिंह, रणजीत सिंह, जोगा सिंह, हरजीत सिंह, सुरजीत सिंह, हरविंद्र सिंह, मलकीयत सिंह, गुरबंत सिंह व अन्य कमेटी सदस्य भी गुरुद्वारे पहुंच गए। पुलिस को सूचित करने पर थाना रामा मंडी के ए.एस.आई. रविंद्र सिंह भट्टी वहां पहुंचे। उन्हें कमेटी ने जांच में पूरा सहयोग दिया और गुरुद्वारे में लगे हुए सी.सी.टी.वी. कैमरों की फुटेज भी सौंप दी जिसमें 2 चोर बाइक पर जाते हुए दिखाई दे रहे हैं। पुलिस काफी देर वहां जांच करती रही लेकिन चोरों का कोई सुराग हाथ नहीं लगा। इन दोनों वारदातों को लेकर थाना रामा मंडी की पुलिस ने केस भी दर्ज किए हुए हैं।

Facebook Comments