इस नदी में पानी कम होते ही शिव खुद देते हैं दर्शन, कोई भी अपने आखों से देख सकता है ये चमत्कार

शिवलिंग को हम हमेशा मंदिरो में ही देखते हैं जहां उन्हें स्थापित किया जाता है और उन्हें पूजा जाता है. कई बार हमे छोटे-छोटे शिवलिंग किसी पवित्र नदी के किनारे भी दिखाई देते हैं जहां लोग अपनी श्रद्धा भक्ति के अनुसार उन्हें पूजते हैं. लेकिन क्या कभी आपने शिवलिंग को नदी से निकलते हुए देखा है. नहीं देखा होगा, आज हम आपको ऐसी ही जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां एक या दो नहीं बल्कि हज़ारों में शिवलिंग निकलती है.

आपको ये जानकर हैरानी तो होगी ही कि भला शिवलिंग कैसे नदी से निकल सकती है. लेकिन ऐसा हो रहा है और यहां आने वाले लोगों को आकर्षित भी कर रही है. बता दें ये जगह कहीं बाहर नहीं बल्कि भारत के कर्नाटक में ही है. जी हाँ, कर्नाटक के कन्नडा ज़िले में स्थित शामला नदी पर एक दो नहीं हज़ारों शिवलिंग बने हुए हैं जिसके कारण इस जगह को सह्स्त्रलिंगा के नाम से भी जाना जाता है. इस नदी की चट्टान पर बने हुए ये शिवलिंग तब दिखाई देते हैं जब नदी का जलस्तर कम होता है. कहा गया है इन शिवलिंगों को सिरसी के राजा सदाएश्वर्य ने 1678-1718 में करवाया था.

इसके अलावा ऐसे ही कुछ शिवलिंग दक्षिण एशियाई देश कंबोडिया में भी देखने को मिलते हैं. सहस्त्रलिंगा की चट्टानों पर शिवलिंग के अलावा कई पशुओं की आकृति भी देखने को मिलती है. ये जगहं शिवभक्तों को काफी आकर्षित करती है जिसे देखने के लोग दूर-दूर से आते हैं.

Facebook Comments