नमो ऐप के जरिए आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से किया संवाद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार लोगों से सीधा संवाद कर रहे हैं। उन्होंने आज गांवों में काम करने वाले लाखों आशा और आंगनबाड़ी के साथ ANM कार्यकर्ताओं से विडियो कॉन्फ़्रेंसिंग से बातचीत की। इस दौरान पीएम ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से कहा कि आपके योगदान बेहद अहम है, मिशन इंद्रधनुष आपकी वजह से ही आगे बढ़ा।

पीएम ने कहा कि 24 लाख से अधिक कार्यकर्ताओं को मेरा नमन। आप लोगों ने डाक्टर से अधिक जिंदगी बचाई। मैं देश के उन हजारों-लाखों डॉक्टरों का भी आभार व्यक्त करना चाहूंगा, जो बिना कोई फीस लिए, गर्भवती महिलाओं की जांच कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश में काफी संख्या में लोग एनीमिया के शिकार हैं। ये बीमारी आयोडीन और आयरन जैसे तत्वों की कमी से होती है। हालांकि पिछले कुछ वर्षों में आयोडीन युक्त नमक का उपयोग बढ़ा है। मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि होम बेस्ड न्यूबोर्न केयर के माध्यम से आप हर वर्ष देश के लगभग सवा करोड़ बच्चों की देखभाल कर रहे हैं। आपकी मेहनत से ये कार्यक्रम सफल हो रहा है, जिसके कारण इसको और विस्तार दिया गया है। अब इसको होम बेस्ड चाइल्ड केयर का नाम दिया गया है।

PunjabKesariपीएम ने कहा कि पहले जन्म के 42 दिन तक आशा वर्कर को 6 बार बच्चे के घर जाना होता था। अब 15 महीने तक 11 बार आपको बच्चे का हालचाल जानना ज़रूरी है। मुझे विश्वास है कि आपके स्नेह और अपनेपन से एक से एक बेहतरीन नागरिक देश को मिलेंगे। बच्चे की ही नहीं बल्कि प्रसूता माता के स्वास्थ्य की भी आप सभी चिंता कर रहे हैं। सुरक्षित मातृत्व अभियान जो सरकार ने चलाया है उसकी अधिक से अधिक जानकारी आपको लोगों तक पहुंचानी है।

PunjabKesari

बता दें कि पीएम पहले भी नमो ऐप के जरिए उज्जवला योजना, मुद्रा योजना, स्किल इंडिया समेत कई अन्य योजनाओं के लाभार्थियों से बात कर चुके हैं। कर्नाटक विधानसभा चुनाव के दौरान भी पीएम मोदी ने वहां के कार्यकर्ताओं से नमो ऐप के जरिए ही बात की थी।

Facebook Comments