सूबे में एक बेहद शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है……

राज्य के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने ट्वीट किया कि धार में आरक्षकों की भर्ती में उत्पन्न हुई विवादास्पद स्थिति की जानकारी मिली है. इस स्थिति की वस्तुस्थिति जानने के लिए जांच के आदेश दे दिए गए हैं.पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र सिंह ने रविवार को बताया कि नव आरक्षकों का स्वास्थ्य परीक्षण चल रहा है. पिछली बार किसी तरह की चूक हो गई थी. इसके चलते अस्पताल प्रबंधन ने ऐसा किया होगा. उसके बावजूद ऐसा क्यों किया गया, इसकी जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

उन्होंने सीने पर एससी-एसटी लिखे जाने की पुष्टि की है. भर्ती में आये लोगो की पहचान में मुश्किल हो रही थी इसी लिए ये घटिया तरीका पनाया गया जिसकी जांच के अब आदेश दिए जा चुके है.  मामला राजनीति मुद्दा बनता देख इसे तुरंत कवर करने की कोशिश की गई है मगर सोशल मिडिया के युग में बात जंगल की आग की तरह फ़ैल गई .

सूबे में एक बेहद शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है जब मध्य प्रदेश में कांस्टेबलों की भर्ती के में शामिल एससी-एसटी अभ्यर्थी के साथ एक बेहद गिरी हुई हरकत कर दी गई. दरअसल अभ्यर्थियों के स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान आरक्षित वर्ग में चयनित अभ्यर्थियों के सीने पर एससी-एसटी लिख दिया गया जिसके बाद मामला तूल पकड़ गया और गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह को जांच के आदेश देने पड़े.

 

Facebook Comments