सीरीज हारने के बाद विराट कोहली की टीम को मिला शेन वॉटसन का साथ!

टीम इंडिया ने रविवार को साउथैम्टन में वापसी करने का मौका खो दिया और 60 रनों से मैच हारकर सीरीज गंवा दी। इस हार के साथ सब तरफ से भारतीय टीम की आलोचनाओं का दौर शुरू हो गया है। लेकिन इसी बीच ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ऑलराउंडर शेन वॉटसन ने भारत का साथ दिया है। वॉटसन का मानना है कि इंग्लैंड में भारतीय बल्लेबाजों का हाल जो भी हुआ हो वो इस साल होने वाले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

‘इंग्लैंड में बैटिंग करना आसान नहीं’
कप्तान विराट कोहली और कुछ हद तक चेतेश्वर पुजारा को छोड़कर ज्यादातर भारतीय बल्लेबाज अपनी क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सके और इंग्लैंड की टीम ने सीरीज में 3-1 की विजयी बढ़त बना ली है। वॉटसन ने एजेंसी पीटीआई से कहा, ”स्विंग गेंदबाजी को खेलना आसान नहीं होता है। अगले साल जब ऑस्ट्रलियाई टीम एशेज के लिए इंग्लैंड का दौरा करेगी तो उनके लिए भी परिस्थिति आसान नहीं होगी। इंग्लैंड इकलौती ऐसी जगह है जहां हालात के कारण गेंद इतनी ज्यादा स्विंग होती है। आप तीन साल में एक बार इंग्लैंड जाकर वहां सफल नहीं हो सकते।

‘ऑस्ट्रेलिया में ज्यादा स्विंग नहीं मिलेगी’  
इस पूर्व हरफनमौला ने कहा कि भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर इंग्लैंड की तुलना में काफी बेहतर प्रदर्शन करेगी। ऑस्ट्रेलिया के लिए 59 टेस्ट, 190 वनडे और 58 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले इस खिलाड़ी ने कहा, ” अगर आप आंकड़े देखेंगे तो भारतीय बल्लेबाजों ने ऑस्ट्रेलिया में अच्छा प्रदर्शन किया है। कोहली ने काफी रन बनाये हैं और मुझे एमसीजी में लोकेश राहुल का शतक भी याद है, अजिंक्य रहाणे ने भी कुछ रन बनाये हैं। उन्होंने कहा, ” ड्यूक गेंद (इंग्लैंड में इस्तेमाल होने वाली) पूरे दिन स्विंग होती है लेकिन ऑस्ट्रेलिया में कूकाबूरा गेंद 10 या 15 ओवरों के बाद स्विंग होनी बंद हो जाती है और मुझे नहीं लगता की उछाल से ज्यादा परेशानी होगी।”

स्मिथ और वॉर्नर का नहीं होना एक चुनौती
वॉटसन ने कहा कि निलंबित कप्तान स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर की गैरमौजूदगी में पहली पारी में बड़ा स्कोर बनाना ऑस्ट्रेलिया के लिए चुनौतीपूर्ण होगा। उन्होंने कहा, ”ऑस्ट्रेलिया के लिए स्मिथ और वॉर्नर की गैरमौजूदगी में सबसे बड़ी चुनौती पहली पारी में बड़ा स्कोर खड़ा करना होगा। टिम पेन ऑस्टेलिया का नेतृत्व करने में सक्षम हैं लेकिन मुझे उनकी बल्लेबाजी को लेकर ज्यादा चिंता है।”

Facebook Comments