कुंडली में शनि अशुभ हो तो हर शनिवार शनिदेव को तेल चढ़ाये….

कुंडली में शनि अशुभ हो तो हर शनिवार शनिदेव को तेल चढ़ाना चाहिए। यह उपाय सभी राशि के लोग कर सकते हैं। जो लोग ये उपाय नियमित रूप से करते रहते हैं, उन्हें साढ़ेसाती और ढय्या में भी शनि की कृपा प्राप्त होती है। यहां जानिए उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी और ज्योतिर्विद पं. सुनील नागर के अनुसार कुछ ऐसी बातें जो शनि को तेल चढ़ाते समय ध्यान रखनी चाहिए…

अगर इन बातों को ध्यान में रखते हुए शनिदेव को तेल चढ़ाया जाए तो वे जल्दी प्रसन्न होते हैं और भक्त की दुर्भाग्य से रक्षा करते हैं।

पहली बात
शनिदेव को हमेशा लोहे के बर्तन से ही तेल चढ़ाना चाहिए। कांच, तांबा या स्टील की कटोरी से तेल चढ़ाने पर उसका पूरा लाभ नहीं मिलता।

दूसरी बात
शनिदेव को जो तेल चढ़ाना है, वह पूरी तरह शुद्ध होना चाहिए। इसलिए मंदिर के बाहर से तेल खरीदने की जगह अपने घर से तेल लेकर जाएंगे तो ज्यादा शुभ रहेगा।

तीसरी बात
तेल चढ़ाने से पहले तेल में अपना चेहरा जरूर देख लेना चाहिए। ऐसा करने से शनि के सभी दोषों से मुक्ति मिल सकती है।

चौथी बात
शनि देव को तेल चढ़ाते समय शनिदेव के पैरों के दर्शन करना चाहिए। भगवान के पैरों के दर्शन करते हुए तेल अर्पित करना बहुत शुभ माना जाता है।

पांचवीं बात
शनिदेव को तेल अर्पित करने के साथ ही अपनी इच्छा अनुसार धन का दान भी करना चाहिए। ये दान आप शनि मंदिर में या किसी जरूरतमंद व्यक्ति को कर सकते हैं।

Facebook Comments