जानियें इस बॉलीवुड की खूबसूरत हिरोइन के साथ आखिर क्या हुआ…..

आज हम आपको अक्षय के करियर की उस पहली अभिनेत्री के बारे में बताने जा रहे हैं जो बेहद कम उम्र में ही विधवा हो गई थीं।  बॉलीवुड खिलाड़ी अक्षय कुमार  बीते 27 सालों से लगातार फिल्मों में काम करते आ रहे हैं। गौरतलब है कि अक्षय कुमार नें 1991 में फिल्म निर्देशक राज सिप्पी की फिल्म ‘सौगंध’ के साथ बॉलीवुड में डेब्यू किया था।

अक्षय के साथ इस फिल्म में बॉलीवुड अभिनेत्री शांतिप्रिया उनकी गर्लफ्रेंड का किरदार निभाती दिखाई दी थीं। दक्षिण भारतीय फिल्मों से बॉलीवुड में एक अच्छा मुकाम हासील करने वाली शांतिप्रिया महज़ 35 साल की उम्र में ही विधवा की जिंदगी जीने को मजबूर हो गईं थीं।

अक्षय की डेब्यू फिल्म में शांतिप्रिया के साथ उनकी शानदार ऑनस्क्रीन कैमेस्ट्री दर्शकों को बखूबी पसंद आई थी, साउथ की इस ब्यूटी नें साल 1999 में बॉलीवुड अभिनेता सिद्धार्थ राइ से शादी की थी। शांतिप्रिया के पति सिद्धार्थ रे वी. शांताराम के पोते थे। शांतिप्रिया के पति भी बेहतरीन एक्टर थे उन्होंने 1992 में फिल्म ‘वंश’ के साथ बॉलीवुड में डेब्यू किया था। ‘तिलक’ और ‘मिलेट्रीराज’ जैसी फिल्मों में नजर आ चुके सिद्धार्थ को आपने शाहरूख खान के साथ फिल्म बाज़ीगर में भी देखा होगा।

बाज़ीगर में शांतिप्रिया काजोल के करीबी दोस्त इंस्पेक्टर करण सक्सेना के रोल में नज़र आए थे।बाज़ीगर फिल्म में सिद्धार्थ रे का गाना छुपाना भी नहीं आता काफी पॉपुलर हुआ था। लेकिन सिद्धार्थ रे और शांतिप्रिया की शादी को हुए पांच साल भी नही हुए थे कि सिद्धार्थ रे का देहांत हो गया था। आपको बता दें की, शांति और सिद्धार्थ के दो बच्चे हैं। पति के निधन के दौरान शांतिप्रिया की उम्र बहुत ही कम थी। सिद्धार्थ की मौत के दौरान शांतिप्रिया सिर्फ 35 साल की थी। साल 2004 में केवल 40 साल की उम्र में सिद्धार्थ को मेजर हार्ट अटैक आ गया था।

फिल्मों के अलावा शांतिप्रिया नें ‘माता की चौकी’ और ‘द्वारकाधीश भगवान श्री कृष्ण’ जैसे टीवी शोज़ में भी काम किया है। फिलहाल शांतिप्रिया तमिल फिल्मों और टीवी सीरियल्स में सपोर्टिंग रोल करते नज़र आ रहीं हैं।

शांतिप्रिया की पहली ही बॉलीवुड फिल्म ‘सौगंध’ बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह फ्लॉप रही, लेकिन इसके बाद भी बॉलीवुड में उन्हें काम मिलता रहा। हिंदी फिल्मों के अलावा शांतिप्रिया तमिल, कन्नड़ और तेलुगु फिल्मों में एक्टिव रही थीं। ‘सौगंध’ के फ्लॉप होने के बाद शांतिप्रिया ‘फूल और अंगार’ (1993), ‘वीरता’ (1993) और ‘इक्के पे इक्का’ (1994) जैसी कई फिल्मों में नज़र आईं।

Facebook Comments