श्री विष्णु महायज्ञ की पूर्णाहुति के साथ संपन्न हुई……

ब्रह्मलीन संत अनंत श्री जयकरण दास जी भक्तमाली परमहंस की तपोस्थली पर निर्मित हुए ग्रीनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज ,गोल्डेन टेम्पल, पांचवा धाम श्री 24 अवतार मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा की प्रथम वर्षगांठ पर 12 दिवसीय महोत्सव का समापन श्री विष्णु महायज्ञ की पूर्णाहुति के साथ हुआ. इस अवसर पर हजारों की तादाद में भक्तजनों ने मंदिर एवं यज्ञशाला की परिक्रमा की. सुबह से ही भक्तों के आने का क्रम चालू हो गया था जो देर रात तक जारी रहा. वही सुबह ब्रह्म मुहूर्त से दोपहर 2:00 बजे तक लोगों ने मंदिर एवं यज्ञशाला की परिक्रमा की. सुबह ब्रह्म मुहूर्त में यज्ञ प्रारंभ हुआ, जिसकी पूर्णाहुति सुबह 11बजकर 30 मिनट के पश्चात अभिजीत मुहूर्त में हुई. यज्ञ कुंड ऊपर बैठे यह यजमानों ने घी तील जो आदि हवन सामग्री के साथ यज्ञाचार्य पंडित राजेश शास्त्री के वैदिक मंत्रोच्चार पर हवन कुंड में आहुति दे कर पूर्णाहुति की.

इस दौरान एक लाख से ज्यादा लोग मन्दिर पहुंचे. वही पूरे कार्यक्रम में सात लाख जनता मन्दिर दर्शन,नानी बाई का मायरा व मेले का लुत्फ उठाने पहुंची. इस दौरान मायरा में भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की पत्नी, तीन घण्टे से ज्यादा रुकी।और उन्होंने विधायक मनोज पटेल, ट्रस्ट सचिव चिंटू वर्मा व हजारो भक्तो के साथ मायरा में जमकर थिरकी. 26 अप्रैल से चल रहे नानी बाई के मायरे में संत श्री रामप्रसाद जी महाराज ने भगवान श्री कृष्ण के सांवरिया सेठ के रूप में नानी बाई का मायरा सुनाया. भगवान श्री कृष्ण के अनन्य भक्त नरसिंह जी पर आधारित इस नानी बाई के मायरे में जब संत श्री द्वारा प्रसंग सुनाए गए तो उपस्थित भक्तजन भाव विभोर हो गए.

कई महिलाओं के आंखों से अश्रुधारा भी बह गई. नानी बाई के मायरे में संगीत एवं भजनों की गंगा संत श्री द्वारा बहांई गई तो सभी भक्तजन भक्ति भाव के रस में डूब कर नृत्य करने को भी मजबूर हो गए तथा भक्त भजनों पर झूमने लगे. भक्तो को देख आशा विजयवर्गीय, विधायक व ट्रस्ट के सचिव भी अपने आपको रोक नही पाये. रविवार की रात्रि को मायरे में हजारो भक्तजन मायरे का आनंद ले रहे थे, वही पूरा मंदिर परिसर भक्तों से पटा पड़ा था, बाहर खुले मैदान में पैर रखने की जगह नही थी. आधा किलो मीटर तक मेले में जाने वाले रास्ते से लोग रेंगते हुए नजर आ रहे थे.

Facebook Comments