17 साल की नाबालिग दलित लड़की का दिन दहाड़े हुआ अपहरण….

सीतापुर से 90 किलोमीटर दूर एक 17 साल की नाबालिग दलित लड़की का दिन दहाड़े 8 महीने पहले अपहरण हो गया। पहले कई दिनों तक उसे बंधक बनाकर गैंगरेप किया गया फिर उसे बेच दिया गया।

यूपी में महिलाओं के खिलाफ अपराध की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। राज्य में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद महिलाओं की सुरक्षा के लिए कई कदम उठाए गए पर कहीं ना कहीं वो इंतजाम नाकाफी साबित हो रहे हैं। हाल ही में एक मामला सीतापुर में सामने आया है।

 

दरअसल सीतापुर से 90 किलोमीटर दूर एक 17 साल की नाबालिग दलित लड़की का दिन दहाड़े 8 महीने पहले अपहरण हो गया। पहले कई दिनों तक उसे बंधक बनाकर गैंगरेप किया गया फिर उसे बेच दिया गया।

बताया जा रहा है की इलाके के ही 3 मुस्लिम लड़कों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। इस घटना को 8 महीने हो गए। केस भी दर्ज हुआ लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। आरोपी आज भी खुलेआम घूम रहे है। धमका रहे हैं। पीड़ित बुजर्ग मां का आरोप है की वो लखनऊ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दरबार में भी गईं, मिलीं भी, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई।

यही वजह है की पीड़ित बुज़ुर्ग महिला को आरोपी लगातार केस वापस लेने के लिए धमकाते हैं। दिल में दर्द, आखों में आंसू लिए पीड़ित महिला का कहना है की आरोपी कहते है की लड़की नहीं मिलेगी। अब तो वो जहां जाती है उसे वहां से भगा दिया जाता है। थक हार कर घर बैठी बुजर्ग के पास कोई रास्ता नहीं बचा है इसलिए अब वो खुदकुशी की बाते करने लगी है।

 

Facebook Comments