ये हैं इतनी बड़ी दुनिया के सबसे छोटे देश…..

माल्टा देश क्षेत्रफल के लिहाज से 10 वां सबसे छोटा देश है। इसका कुल क्षेत्रफल 316 वर्ग किलोमीटर है। हिन्द महासागर में स्थित मालदीव भी दुनिया के सबसे छोटे देशों में यह देश 9 वें नंबर पर है। इस देश का कुल क्षेत्रफल 298 वर्ग किलोमीटर है।

इस बड़ी सी दुनिया में कई छोटे देश है। वैसे तो हर देश अपनी खासियत होती है। किसी देश की संस्कृति तो कभी वहां के रहन-सहन, हर देश का अपनी एक विशेषता अवश्य होती है। लेकिन क्या आप जानते है दुनिया में कई ऐसे देश हो जो क्षेत्रफल की दृष्टि से काफी छोटे

मध्य सागर में स्थित मर्शलद्ववीप महज 181 वर्ग किलोमीटर में फैला है। यह देश अमेरिका से अलग होकर साल 1986 में अस्तित्व में आया था।

इसके बाद आता है लिकटेंस्टीन देश स्विट्ज़रलैंड और ऑस्ट्रिया के बीच स्थित हैए इसका क्षेत्रफल 1604 वर्ग किलोमीटर है। मात्र 26 वर्ग किलोमीटर में फैले तुवालू को साल 1978 में ब्रिटेन से आजादी मिली थी।

नौरू देश केवल 21.3 वर्ग किलोमीटर में फैला है। खास बात यह है कि इस देश के पास अपनी कोई मिलिट्री नहीं है।
यूरोप का मोनाको देश पर्यटन के दृष्टिकोण से बेहतरीन देश है और यह दुनिया के सबसे छोटे देशों में दूसरे नंबर पर है। इस देश का क्षेत्रफल महज 202 वर्ग किलोमीटर ही है।

वेटिकन सिटी दुनिया का सबसे छोटा देश है। इसका क्षेत्रफल मात्र 0.44 वर्ग किलोमीटर है। यहाँ की जनसँख्या भी मात्र 800 है। हालांकि इस देश में काम करने वालों की संख्या 1000 है।

Facebook Comments