इस आतंकी संगठन ने ली सिखों, हिंदुओं पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली

आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने पूर्वी अफगानिस्तान में सोमवार को एक आत्मघाती हमला करने की जिम्मेदारी ली है. इस हमले में कम से कम 19 लोग मारे गए थे, , जिनमें से ज्यादातर सिख और हिंदू थे. हमलावरों ने अल्पसंख्यक समुदय के एक प्रतिनिधिमंडल को निशाना बनाया जो रविवार को जलालाबाद स्थित गवर्नर आवास जा रहे थे. वे लोग राष्ट्रपति अशरफ गनी से मिलने जा रहे थे.

मारे गए लोगों में अवतार सिंह खालसा भी शामिल थे. वह सिख समुदाय के नेता था. इस हमले में 20 अन्य लोग घायल भी हुए थे. आईएस ने आज जारी एक बयान में कहा कि इसने कई देवी देवताओं की पूजा करने वालों को निशाना बनाया.

वहीं अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने जलालाबाद में इस्लामिक स्टेट के एक आत्मघाती बम हमलावर के हमले में 19 अफगान नागरिकों की मौत पर सोमवार को दुख प्रकट किया.

राष्ट्रपति गनी ने ट्वीट किया , ‘हमें बतौर राष्ट्र उनकी मौत पर गहरा दुख है और उनके प्रियजन को जताना चाहते हैं कि हम उनके साथ हैं. मैं उनके परिवारों और दोस्तों के प्रति हार्दिक संवेदना प्रकट करता हूं और हम दुख की घड़ी में उनके साथ हैं.’

गनी ने कहा , ‘हमारे जिन साथी अफगानिस्तानियों की जलालाबाद में मौत हो गई , उनके परिवारों के लिए हमारा कलेजा भर आया. मैं गर्वशाली अपने सिख लोगों की मृत्यु पर दुखी हूं. हाल के समय में मुझे कई बार उनसे संवाद करने का सम्मान मिला था. ’

Facebook Comments