जल्द ही न्यू यॉर्क से प्राचीन बहुमूल्य वस्तु की होगी वापसी…

एमईटी अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) डेनियल विस ने मूर्ति लौटाने के लिए एक एमओयू पर हस्ताक्षर करके इसे भारत के वाणिज्यिक दूत संदीप चक्रवर्ती को न्यूयॉर्क में सौंप दिया।

वाणिज्य दूतावास ने एक ट्वीट में कहा है, “ प्राचीन बहुमूल्य वस्तु की वापसी… एमईटी संग्रहालय के अध्यक्ष और सीईओ ने दुर्गा महिषासुरमर्दिनी की मूर्ति भारत को लौटाने के लिए एक एमओयू पर हस्ताक्षर किया और इसे वाणिज्यिक दूत चक्रवर्ती को सौंप दिया। इस मूर्ति का ताल्लुक चक्रवर्तेश्वर मंदिर , बैजनाथ से है। इस मौके पर भारत के इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना तकनीक और पर्यटन राज्यमंत्री के जे अल्फोंस भी उपस्थित थे।”

कला से संबंधित एक वेबसाइट आर्टनेट न्यूज की एक रिपोर्ट में एमईटी के बयान को उद्धृत किया गया है। इसमें कहा गया है कि यह मूर्ति कभी बैजनाथ के चक्रवर्तेश्वर मंदिर में थी और इसे साल 2015 में संग्रहालय को दान में दिया गया था। रिपोर्ट में बताया गया है कि मूर्ति जल्दी ही नई दिल्ली को सौंप दी जाएगी।

Facebook Comments