चुराया हुआ बच्चा पहले 1.50 लाख में खरीदा और फिर 2 लाख में बेच दिया

फिल्लौर में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें पांच जुलाई को अपहृत एक छह महीने के बच्चे को दो बार बेचा गया। पहली बार बच्चे को डेढ़ लाख में खरीदने वाले शख्स ने दो लाख में बच्चे को किसी और को बेच दिया।

पुलिस उपाधीक्षक अमरीक सिंह चहल ने आज बताया कि मेले में एक खिलौने बेचने का कार्य करने वाली औरत सौदागर बाई अपने छह माह के बच्चे को अपनी तीन वर्षीय बेटी के साथ छोड़कर खाना खाने गई थी। जब वह लौटी तो देखा कि बेटा नहीं था। उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने जांच के बाद नावीज, पूरण, सरबजीत कौर और महिंद्र सिंह (सभी लुधियाना के निवासी) को गिरफ्तार किया जबकि इस प्रकरण के चार और आरोपी फरार बताए जाते हैं।

पुलिस ने बताया कि नावीज और नजम ने बच्चे को मेले से अपहृत किया था। उन्होंने पूरण और सरबजीत कौर की मदद से बच्चा बेचने की योजना बनाई तथा नावीज और रबजीत ने बच्चे के मां-पिता बनकर लुधियाना के महिंदर सिंह को बच्चा डेढ़ लाख रुपए में बेच दिया। बाद में महिंद्र सिंह ने रणजीत कौर और हरविंदर कौर की सहायता से बठिंडा जिले की बीरपाल कौर को बच्चा दो लाख रुपए में बेच दिया। चहल के अनुसार नजम, बीरपाल, हरविंदर और रंजीत अभी तक फरार हैं और उनकी तलाश जारी है।

Facebook Comments