सीएमडी कॉलेज में परीक्षा के दौरान छात्रा बेहोश…

बिलासपुर विश्वविद्यालय की मुख्य परीक्षा में नकल का खाता गुरुवार को खुला। संभाग के सबसे सुरक्षित और सीसीटीवी से लैस कौशलेंद्र राव विधि महाविद्यालय में केंद्रीय उड़नदस्ता ने छापामार कार्रवाई में दो परीक्षार्थियों को पकड़ा। बीकॉम सेकंड ईयर हिन्दी के पेपर में दस्ते को देखते ही एक छात्र ने चुटका नीचे फेंक दिया। वहीं छात्रा उत्तरपुस्तिका में दबाकर लिखते पकड़ी गई।

सत्र 2017-18 की मुख्य परीक्षा में इस बार सख्त व्यवस्था का दावा किया गया है। पांच उड़नदस्ता को पहले दिन कोई नकलची नहीं मिले, लेकिन दूसरे दिन बिलासपुर शहर से शुरुआत हुई। तीसरी पाली की परीक्षा में कौशलेंद्र राव विधि महाविद्यालय में केंद्रीय उड़नदस्ता ने कार्रवाई करते हुए एक छात्र व एक छात्रा को नकल सामग्री के साथ मौके पर पकड़ा। अधिकारियों ने परीक्षा में अनुचित साधन उपयोग मामले में प्रकरण पंजीबद्ध कर रिपोर्ट परीक्षा विभाग को सौंप दी।

नकल पर सचिव को पत्र

बीए सेकंड ईयर हिन्दी विशिष्ट की परीक्षा दूसरी पाली में हुई। इसमें परीक्षार्थियों से प्रश्न नंबर चार में पूछा गया कि किसी महाविद्यालय में हुई परीक्षा में नकलबाजी पर एक तथ्यान्वेषण समिति के सचिव की ओर से एक प्रतिवेदन तैयार कीजिए। सवाल को हल करने कई परीक्षार्थी टेंशन में नजर आए। इसी तरह युवाओं के अधिकार पर भी सवाल था।

सीएमडी कॉलेज में परीक्षा के दौरान छात्रा बेहोश

सीएमडी कॉलेज में मुख्य परीक्षा के दौरान दूसरी पाली में बीए सेकंड ईयर की एक छात्रा अचानक बेहोश हो गई।

परीक्षा हॉल में हडकंप मच गया। केंद्राध्यक्ष ने तत्काल प्राथमिक उपचार कर 108 को कॉल किया। एबुलेंस की सहायता से छात्रा को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी तबीयत ठीक होने के बाद अभिभावक घर ले गए।

इनका कहना है

बीकॉम सेकंड ईयर हिन्दी विषय के पेपर में दो नकलची पकडे गए हैं। नकल प्रकरण का मामला दर्ज कर लिया गया है। उड़नदस्ते की कुल पांच टीम है। संभाग के 91 कॉलेजों में उनकी पैनी नजर है – डॉ.प्रवीण पाण्डेय, परीक्षा नियंत्रक, बिलासपुर विश्वविद्यालय

Facebook Comments