आज तोड़ेंगी अनशन स्वाति मालीवाल , मांगें मानने पर पीएम मोदी का जताया आभार

बीते नौ दिनों से राजघाट पर अनशन कर रही स्वाति मालीवाल ने रविवार दोपहर दो बजे अनशन तोड़ने की घोषणा की है। शनिवार देर शाम मंच से उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने हमारी ज्यादातर मांगें मान ली हैं। खासकर बच्चों के साथ दुष्कर्म के दोषियों को फांसी की सजा की मांग भी मानी गई है। स्वाति ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार भी व्यक्त किया।

– दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल बच्चों के साथ दुष्कर्म करने वालों को छह माह के भीतर फांसी की सजा के अलावा छह मांगों को लेकर अनशन कर रही हैं।

– उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने जो अध्यादेश पास किया है, उसकी प्रति मिली है। मुझे बताते हुए खुशी हो रही है कि केंद्र सरकार ने हमारी लगभग सारी मांगें मान ली हैं।

– इस अध्यादेश में साफ-साफ लिखा है कि हरहाल में बच्चे के साथ दुष्कर्म के दोषियों को छह माह में फांसी की सजा दी जाएगी। साथ ही यह भी लिखा है कि जो भी दुष्कर्म के मामले होते हैं, समयबद्ध तरीके से छह माह में उसकी कार्रवाई पूरी की जाएगी। देश भर में नये फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाए जाएंगे। इसके अलावा पुलिस की स्पेशल टीम बनाई जाएगी जो दुष्कर्म मामलों की जांच करेगी। इसके लिए जो भी संसाधन जरूरत होगी वो पुलिस को दिए जाएंगे। साथ ही यह साफ किया है कि जो भी प्रक्रिया हैं, वो तीन माह में पूरी हो जाएगी।

– स्वाति मालीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने लंदन से लौटकर सुबह कैबिनेट की बैठक बुलाई जिसमें यह सारे निर्णय लिए गए। मैं प्रधानमंत्री का आभार प्रकट करती हूं। उन्होंने यह काम देशहित में काम किया है, इसकी मैं सराहना करती हूं।

– स्वाति मालीवाल ने कहा कि आजतक किसी आंदोलन में नौ दिन में इतनी बड़ी जीत मिलना शायद ही कभी हुआ है। यह स्वाति मालीवाल की जीत नहीं है, यह देश की बेटियों-बेटों और देश की निर्भयाओं की जीत है। प्रधानमंत्री जी ने हमारी बात मानी, इस देश के मन की बात मानी।

– स्वाति ने कहा कि मैंने यह निर्णय लिया है कि रविवार दो बजे अपना अनशन समाप्त करूंगी। यह अनशन तो खत्म होगा, लेकिन संघर्ष जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि यह लड़ाई छोटी लड़ाई नहीं है। हमें पूरे देश में चेतना जगानी होगी। वो चेतना जगाकर पूरे देश में यह आंदोलन पहुंचाना होगा। मैं देश के प्रधानमंत्री के सम्मान में यह अनशन तोड़ रही हूं। अगर ये मांगें तीन महीने में पूरी नहीं हुई तो यह अनशन दोबारा होगा।

Facebook Comments