टाटा नेक्सन की बिक्री का आंकड़ा 50,000 को पार

टाटा मोटर्स की मोस्ट पॉपुलर सबकॉम्पैक्ट एसयूवी नेक्सन ने 50 हजार यूनिट की बिक्री का आंकड़ा पर कर लिया है। इस किर्तिमान को हालिस करने में नेक्सन को 11 महिने का वक्त लग गया। बता दें कि टाटा नेक्सन को पिछले साल सितंबर 2017 में लॉन्च किया गया था। तब से अब तक इसे कई बार अपडेट भी किया जा चुका है।

टाटा नेक्सन की बिक्री का आंकड़ा 50,000 को पार

टाटा नेक्सन की अब तक कुल पचास हजार से भी ज्यादा यूनिट बिक चुकी हैं, इस लिहाज से 4 हजार टाटा नेक्सन हर महिने बिक रही है। आप कह सकते हैं कि टाटा नेक्सन इस समय कंपनी की सबसे ज्यादा बिकनेवाली या बेस्ट सेलिंग कार है। इसकी कीमत 6.15 लाख से शुरू होती है जो कि टॉप वेरिएंट के लिए 10.59 लाख रुपए एक्स शोरूम (दिल्ली) तक जाती है।

सितंबर 2017 में भारतीय मार्केट में लॉन्च होने के बाद से ही ये कार काफी पॉपुलर रही है। टाटा मोटर्स ने भी अपनी इस मोस्ट स्टाइलिश कार को प्रमोट करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। आईपीएल से लेकर हर बड़े प्लेटफॉर्म पर टाटा नेक्सन को जमकर प्रमोट किया गया।

हाल ही में टाटा मोटर्स ने नेक्सन के टॉप वेरिएंट XZA+ ट्रिम में AMT का भी विकल्प दिया है। इसके अलावा मिड-स्पेक टाटा नेक्सन में भी ऑटोमैटिक गियरबॉक्स मिलता है।

टाटा नेक्सन के महत्वपूर्ण फीचर्स की बात करें तो इस पॉपुलर कॉम्पैक्ट एसयूवी में वॉयस कमांड के साथ टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, नेविगेशन, टेक्स्ट और वाट्सअप पढ़ने की सुविधा, प्रोजेक्टर हेडलैंप, LED डेटाइम रनिंग लाइट्स और 16-इंच के अलॉय व्हील मिलते हैं।

अपने सेगमेंट में टाटा सबसे सेफ कारों में मानी जाती है। सेफ्टी फीचर्स के तौर पर टाटा नेक्सन में ड्राइवर और पैसेंजर साइड एयरबैग, ISOFIX चाइल्ड माउंट सीट्स, सीट बेल्ट प्री-टेन्शनर्स और ABS, EBD जैसे फीचर्स मिलते हैं।

हाल ही में ग्लोबल NCAP (न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम) ने टाटा नेक्सन SUV का क्रैश टेस्ट रिजल्ट सार्वजनिक किया है। क्रैश टेस्ट में टाटा नेक्सन को कड़ी परीक्षा से गुजरना पड़ा, लेकिन नतीजे अच्छे रहे। क्रैश टेस्ट में टाटा नेक्सन को 4-स्टार रेटिंग मिली है। बता दें कि ये क्रैश टेस्ट मेड-इन-इंडिया टाटा नेक्सन पर किया गया था।

क्रैश टेस्ट रिजल्ट में टाटा नेक्सन ने काफी अच्छे अंक अर्जित किये। एडल्ट ऑक्यूपेन्ट प्रोटेक्शन में जहां टाटा नेक्सन को 4-स्टार मिला वहीं चाइल्ड ऑक्यूपेन्ट प्रोटेक्शन में उसने 3-स्टार हासिल किये। टेस्ट के दौरान कार की बॉडी को काफी स्टेबल माना गया और यही कार बॉडी की मजबूती के कारण ही टाटा नेक्सन को इतने बढ़ियां अंक मिले हैं।

क्रैश टेस्ट के दौरान टाटा नेक्सन 64 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से टकराया जिसमें उसका फ्रंट पुरी तरह से तबाह हो गया लेकिन एयरबैग सही सयम पर खुला। क्रैश टेस्ट करने वाली एजेंसी ने कहा कि ड्राइवर और पैसेंजर के सर और गले के लिए तो पुरी सुरक्षा है लेकिन छाती को ये उतनी सुरक्षा नहीं दे पाता। चाइल्ड सेफ्टी में भी कुछ यही हाल है। ओवरऑल टाटा नेक्सन ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया।

टाटा नेक्सन में 1.2 लीटर पेट्रोल और 1.5 लीटर की डीजल इंजन दिया गया है। पेट्रोल वेरिएंट 108 बीएचपी की पावर और 170 न्यूटन मीटर का टॉर्क जनरेट करता है। वहीं इसका डीजल वेरिएंट 108 बीएचपी की पावर और 260 न्यूटन मीटर का टॉर्क जनरेट करता है। दोनों ही इंजन को 6-स्पीड ऑटोमैटिक गियबॉक्स ट्रांसमिशन से लैस किया गया है।

Facebook Comments