Live : दाऊद के शार्प शूटर मुन्ना झिंगड़ा ने थाईलैंड हाइकोर्ट में की अपील, प्रत्यर्पण में हो सकती है देरी

मोस्ट वॉन्टेड अन्डरवर्ल्ड अपराधी दाऊद इब्राहिम के शार्प शूटर और छोटा शकील के करीबी सैयद मुजक्किर मुद्दसर हुसैन उर्फ मोहम्मद सलीम और मुन्ना झिंगड़ा के प्रत्यर्पण मामले में अब नया मोड़ गया है। दरअसल मुन्ना झिंगड़ा ने थाईलैंड हाइकोर्ट में अपील की है जिसकी वजह से उसके प्रत्यर्पण मामले में देरी हो सकती है।

बता दें कि अगस्त महीने में पाकिस्तान के दावे को खारिज करते हुए थाईलैंड की स्थानीय अदालत ने मुन्ना झिंगड़ा को भारत का नागरिक माना और उसे जल्द ही भारत को प्रत्यर्पित करने का आदेश दिया है। 2008 से ही पाकिस्तान के खिलाफ भारत केस लड़ रहा था कि झिंगड़ा भारतीय नागरिक है और इस केस में भारत को जीत मिली।

पाकिस्तान ने दावा किया था कि झिंगड़ा पाकिस्तानी नागरिक है। बैंकॉक में उसे पाकिस्तान पासपोर्ट के साथ गिरफ्तार किया गया था। पाकिस्तान ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर कहता रहा कि झिंगड़ा उसके देश का नागरिक है। लेकिन कोर्ट ने पाकिस्तानी दावे को खारिज कर दिया और उसके भारतीय नागरिक माना।

मुन्ना झिंगड़ा फर्जी पाकिस्तानी पासपोर्ट पर बैंकॉक गया था और साल 2000 से वहां की जेल में बंद है। उसपर दाऊद के दुश्मन छोटा राजन की हत्या की साजिश रचने का आरोप है। झिंगड़ा के पिता मुद्दसर नुसैन की 1993 मुंबई धमाके में भी बड़ी भूमिका रही है और उसे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई का संरक्षण मिला हुआ है। थाइलैंड में पाकिस्तानी दूतावास के जरिए भी झिंगड़ा की सजा को कम करवाने की कोशिशें की गई जिसमें सफलता भी मिली। मुन्ना झिंगड़ा की सजा को पहले कम कर के 34 साल कर दिया गया।

Facebook Comments