आपदा पीड़ितों को देंगे त्वरित राहत : सीएम योगी

बाढ़ पीड़ितों का हाल जानने पालहापुर बाढ़ चौकी पर आए सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीड़ितों को त्वरित राहत देने का भरोसा दिया। कहाकि केन्द्र व राज्य सरकार की हर स्थिति पर नजर है। उन्होंने कहा कि अभी गंभीर स्थिति नहीं है फिर वे खुद यहां व्यवस्था के लिए आए हैं।
करीब 1 बजकर 10 मिनट पर हैलीकॉप्टर से पहुंचे सीएम ने पहले सेफ हाउस में तैयारियों व स्थितियों की समीक्षा की। अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के साथ 20 मिनट तक समीक्षा के बाद मंच पर आए। सांसद कैसरगंज बृजभूषण शरण सिंह ने संक्षिप्त जानकारी दी। सीएम ने फिर भरोसा दिया कि बाढ़ पीड़ितों के लिए पूरी सरकार खड़ी है। जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों व संगठनों के पदाधिकारियों से अपील की कि आपदा में सभी आगे आएं और पीड़ितों की मदद करें।
उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ी तो तटबंध बनेगा और इसके लिए अधिकारियों को निर्देश दिया है कि जिनकी भूमि बांध के लिए लिया जाए उन्हें उचित मूल्य दिया जाए। महज सात मिनट के भाषण में सिर्फ दावा और अपील की। इस दौरान मंत्री रमापति शास्त्री, उपेन्द्र तिवारी, पूर्व सांसद सत्यदेव सिंह, विधायक अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया, बावन सिंह, प्रभात वर्मा, प्रतीक भूषण सिंह, जिलाध्यक्ष हियुवा शारदा कांत पांडे, पीयूष मिश्रा के अलावा मंडलीय व जिला स्तरीय अधिकारी रहे।
हवाई सर्वेक्षण किया :
मुख्यमंत्री ने हवाई सर्वेक्षण किया। बाढ़ प्रभावित गावों के साथ ही बांध भी देखा। उनके साथ सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव व विशेष सचिव मुख्यमंत्री अविनाश कुमार रहे।
तटबंध टूटने का नहीं किया जिक्र :
पूरे भाषण में टूटे अस्थाई तटबंध का जिक्र सीएम ने नहीं किया। माना जा रहा है कि अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों ने फीडबैक में तटबंध को माना ही नहीं की बना था। सूत्रों की मानें तो बताया गया कि अस्थाई बांध स्थानीय लोगों ने बनाया था जो बहा है।

Facebook Comments