अगर सुबह उठते ही आपको भी होती है बेचैनी और सनसनाहट, तो जान लें इस विटामिन की है कमी

सुबह उठते ही घबराहट होना,बेचैनी या फिर छोटी उम्र में ही जोड़ों के दर्द की शिकायत रहना परेशानी की बात है। लगातार इस तरह की समस्याएं बनी रहे तो दिमाग में यह बात आती है कि कहीं शरीर में किसी विटामिन की कोई कमी तो नहीं आ रही। हैल्दी रहने के लिए खनिज पदार्थों और विटामिन का बैलेंस होना बहुत जरूरी है। अगर आप भी लगातार घबराहट, बैचेनी और जोड़ों में होने वाले दर्द को इग्नोर कर रहे हैं तो ऐसा विटामिन डी की कमी के कारण हो सकता है। इस कमी से आगे चलकर सेहत संबंधी परेशानियां बढ़ने लगती है। जो आगे चलकर गंभीर हो सकती हैं।

 

1. विटामिन डी शरीर को सुचारू रूप से चलाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इससे रोगों से लड़ने की शक्ति बनी रहती है और कैंसर जैसी बीमारियों की रोकथाम में भी यह बहुत महत्वपूर्ण है। डायबिटीज,हाइपरटैंशन आदि भी इसकी कमी के कारण हो सकते हैं।

2. शरीर में जब भी इस विटामिन की कमी आती है तो ब्लड प्रैशर बिगड़ने की संभावना भी बढ़ने लगती है। इस तरह की छोटी-छोटी परेशानियों से बचने के लिए विटामिन डी से भरपूर आहार खाएं।

3. डिप्रैशन बहुत गंभीर समस्या है। इसके बढ़ने के पीछे विटामिन डी3 की कमी है। अपनी डाइट की तरफ पूरा ध्यान दें और खुद को एक्टिव रखने के लिए शारीरिक व्यायाम जैसे योगा और एक्सरसाइज पर भी ध्यान दें।

4. प्रतिरोधक क्षमता के कमजोर होने का कारण भी विटामिन डी की कमी होना है। शरीर अगर छोटी-छोटी बीमारियों को भी झेल भी न पाए तो इसका कारण है कि आपको रोग प्रतिरोधक क्षमता बिगड़ने लगी है।

5. सुबह उठते ही अगर घबराहट का अहसास हो रहा है तो इसे नजरअंदाज न करें। डॉक्टर से चैकअप करवाएं कि कहीं इसके पीछे का कारण विटामिन डी तो नहीं।

6. विटामिन डी की कमी से हड्डियों की कमजोरी भी होने लगती है। कई बार तो इससे शरीर में अचानक दर्द बढ़ने लगता है। मांसपेशियों की जकड़न होने लगे तो विटामिन डी की कमी की जांच जरूर करवाएं।

7. शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अनियंत्रित हो जाने पर भी इसकी वजह विटामिन की कमी होती है। जिससे इग्नोर करने पर बीमारियां बढ़ने लगती हैं।

Facebook Comments