अमित शाह का राहुल-अखिलेश और मायावती को खुला चैलेंज, सब एक जाएं तब भी जीतेंगे 74 सीटें

2019 के लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने उत्तर प्रदेश में अपना अभियान तेज कर दिया है। चुनाव में एक साल से भी कम वक्त बचा है और बीजेपी मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए जनता से वोट मांग रही है। यूपी के मुगलसराय में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने जनसभा में दावा किया कि जनता 2019 में भी बीजेपी को ही जिताएगी। साथ ही शाह ने कहा कि बुआ (मायावती), भतीजा (अखिलेश यादव) और राहुल मिल जाएं, तो भी नहीं जीत पाएंगे। शाह ने कहा कि मोदी सरकार यूपी के विकास के लिए काम कर रही है।

शाह ने जनसभा के दौरान जनता से यूपी में 74 सीटें जिताने की अपील की। शाह ने कहा कि 2019 में जीत का रास्ता यूपी से होकर जाएगा। उन्होंने कहा, ‘2019 के चुनाव में यूपी से पार्टी की वर्तमान में जो 73 सीटें हैं उससे एक भी कम यानी 72 नहीं बल्कि 74 जरूर हो सकती हैं। बुआ-भतीजा के साथ चाहे राहुल बाबा मिल जाएं, कोई फर्क नहीं पड़ता।’

‘2019 में यूपी से जाएगा दिल्ली का रास्ता’
बीजेपी अध्यक्ष ने एसपी, बीएसपी के साथ ही कांग्रेस को जनता के बीच अपने जनाधार को कभी भी अजमाने की चेतावनी देते हुए कहा कि 2019 में यूपी से ही दिल्ली का रास्ता जाएगा। शाह ने कहा कि मोदी सरकार यूपी के विकास के लिए समर्पित है। इससे पहले लखनऊ में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी कहा कि विकास की दिशा में मोदी सरकार तेजी से काम कर रही है।

NRC के बहाने ममता-कांग्रेस पर हमला
उत्तर प्रदेश के चंदौली स्थित मुगलसराय जंक्शन के नए नामकरण के मौके पर आयोजित जनसभा में कांग्रेस, समाजवादी पार्टी (एसपी) समेत बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) पर जमकर निशाना साधा। यही नहीं, इस दौरान उन्होंने नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) के मुद्दे पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला किया।

अमित शाह ने एनआरसी के मुद्दे पर कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत नरेंद्र मोदी सरकार ने एनआरसी बनाया। एनआरसी देश में से, असम में से बांग्लादेशी घुसपैठियों को चुन-चुनकर निकालने की व्यवस्था है। ममता बनर्जी कहती हैं एनआरसी नहीं होना चाहिए। कांग्रेस कहती है एनआरसी नहीं होना चाहिए। मैं चार दिन से राहुल बाबा से पूछ रहा हूं कि इस देश में एनआरसी होना चाहिए या नहीं तो वह जवाब नहीं देना चाहते हैं।’

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ‘मुगलसराय की धरती पर मैं एसपी, बीएसपी और कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि तय कर लो बांग्लादेशी घुसपैठियों को यहां रखना चाहते हो या निकालना चाहते हो। मुझे उत्तर प्रदेश की जनता का जवाब मालूम है, एक भी बांग्लादेशी घुसपैठियों को यहां रखना नहीं चाहिए।’

‘पिछड़ों के लिए ओबीसी कमिशन के तहत बिल’
शाह ने कहा, ‘अभी-अभी पीएम मोदी दो बिल लेकर आनेवाले हैं। सभी पिछड़ों को ओबीसी कमिशन के तहत संवैधानिक मान्यता देने का बिल, मैं राहुल गांधी से पूछना चाहता हूं कि ओबीसी बिल पारित करने में कांग्रेस करने में सहायता करेगी या नहीं। वहीं साफ हो जाएगा कि कांग्रेस पार्टी पिछड़ों का कल्याण चाहती है या नहीं चाहती। मैं पिछड़ा समाज के सभी लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि कांग्रेस समर्थन करे या न करे लेकिन मोदी सरकार बिल को पारित कराकर पिछड़ा वर्ग के सभी लोगों को सम्मान देने जा रही है।’ उन्होंने कहा कि हमारे भाई मनोज सिन्हा जो पूर्वांचल के विकास के लिए समर्पित व्यक्ति हैं। उन्होंने बीएचयू के अस्पताल को एम्स के समकक्ष कराकर करोड़ों पूर्वांचलवासियों को एक बहुत बड़ा नजराना देने का काम किया है।

कांग्रेस पार्टी ओबीसी वर्ग को संवैधानिक दर्जा देने वाले बिल का समर्थन करे या ना करे, भारतीय जनता पार्टी ओबीसी वर्ग को उनका अधिकार दिलकार रहेगी : श्री अमित शाह

‘बुआ-भतीजा को सुनकर नहीं देखी जाती उनकी जलन’
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, ‘बुआ-भतीजा को जब भी मैं सुनता हूं उनकी जलन देखी नहीं जाती। लगता है कि हम गए और ये आ गए। अरे भइया जनता ने मौका आपको भी पंद्रह साल तक दिया था लेकिन करप्शन, गुंडा, माफिया दिखता था लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार में पूरे उत्तर प्रदेश से माफिया सरहद छोड़कर भागा हुआ नजर आता है, जिस राज्य के अंदर कानून व्यवस्था ठीक होगी वहीं विकास हो सकता है।’

‘यूपी को मोदी सरकार ने कांग्रेस से ज्यादा पैसा दिया’
भारतीय जनता पार्टी के चाणक्य माने जानेवाले अमित शाह यहीं पर नहीं रुके। उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश के विकास के लिए बोलती है। मैं राहुल बाबा से पूछना चाहता हूं कि 10 साल तक आपकी सरकार चली। एसपी-बीएसपी के समर्थन से चली, कितना पैसा दिया उत्तर प्रदेश को। तीन लाख तीस हजार करोड़ रुपये इन्होंने यूपी को दिया था। नरेंद्र मोदी सरकार आई, योगी आदित्यनाथ सरकार आई और भारत सरकार ने 8 लाख 8 हजार करोड़ रुपये देने का काम किया। 4 लाख 77 हजार करोड़ रुपये ज्यादा देने का काम किया है। डिफेंस कॉरिडोर दिया, पूर्वांचल एक्सप्रेसवे दिया, बुंदेलखंड के विकास के लिए भी पैसा दिया। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे बनने के बाद सीधा लखनऊ से काशी पहुंचना हो या दिल्ली से आगरा होकर काशी पहुंचना हो, चुटकी में आपकी गाड़ी गाजीपुर होकर काशी पहुंचेगी।’

राहुल गांधी से मांगा 55 सालों का हिसाब
मोदी सरकार की योजनाओं को गिनाते हुए शाह ने कहा, ‘यह कांग्रेस गरीबों की बात करती है हमने साढ़े चार करोड़ महिलाओं को गैस का सिलिंडर दिया, गरीबों के घर में टॉइलट दिया, दो करोड़ गरीबों को घर दिया, दो करोड़ से ज्यादा लोगों को बिजली उपलब्ध कराई, 12 करोड़ से ज्यादा युवाओं को मुद्रा बैंक के जरिए लोन दिलाया लेकिन राहुल बाबा आप हिसाब दीजिए कि आपने 55 साल में किया किया।

‘यूपी को एक नंबर का राज्य बनाकर मांगेंगे वोट’
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, ‘आपको यकीन दिलाता हूं कि पांच साल बाद जब हम आपसे वोट लेने आएंगे तो यूपी को देश का नंबर एक राज्य बनाकर हम वोट मांगेंगे।’ इस दौरान राम मंदिर को लेकर नारेबाजी भी हुई। शाह ने 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर कहा, ‘2014 में जब मैं पूर्वांचल में आता था तो मैं कहता था कि दिल्ली का रास्ता लखनऊ होकर जाता है। इस बार भी मैं कहता हूं कि 2019 का रास्ता यूपी से होकर ही जाएगा।’

Facebook Comments