अमृत धारा से दूर कर सकते हैं कई बीमारियां, जानिए कैसे बनाएं अमृत धारा

अमृत धारा एक ऐसी हर्ब है जो कई बीमारियों का आसानी से उपचार कर देती है. आज हम आपको बता रहे हैं अमृत धारा किन बीमारियों को दूर करने में मददगार है. साथ ही ये भी जानिए कि अमृत धारा को घर पर ही कैसे बनाएं. गुरूजी पवन सिन्हा बता रहे हैं घर में ही अमृत धारा बनाने की विधि के बारे में.

अमृत धारा बनाने की समाग्री-

25 ग्राम अजवाइन पाउडर

25 ग्राम लाल इलाइची

25 ग्राम देशी कपूर

10 मिली लीटर लौंग का तेल

10 मिली लीटर दालचीनी का तेल

25 ग्राम पिपरमेंट

सारी समाग्री को मिलाकर सफेद शीशी में रख दें.

अमृत धारा के फायदे-

जहां दर्द हो इस तेल की मालिश करें

गैस की समस्या में आधा कप पानी में 2 बूंद तेल डालकर पी लें.

पेट पर इस तेल की मालिश करने से अकड़न कम होती है.

पेट संबंधी बीमारियों जैसे पेट दर्द, दस्त, गैस्ट्रिक प्रॉब्लम में अमृत धारा बहुत मददगार साबित होती है.

नाक बंद हो तो अमृत धारा सूंध ले कोल्‍ड में आराम मिलेगा.

दांतों में दर्द हो तो रूई से मुंह के अंदर लगाने से दर्द दूर होता है.

खाने के बाद ठंडे पानी में 2-3 बूंद अमृत धारा मिलाकर पीने से खाना जल्दी पचता है और बदहजमी की शिकायत भी नहीं रहती.

छालों में भी अमृत धारा बहुत फायदेमंद है.

हिचकी आने पर मुंह में अमृत धारा रख लें और मुंह बंद कर लें आराम मिलेगा.

सिरदर्द होने पर अमृत धारा की बूंदों को सिर के आसपास लगाएं आराम मिलेगा.

Facebook Comments