कंबोडिया के अंकोरवाट में स्थित विश्व का सबसे बड़ा विष्णु भगवान का मंदिर….

वैसे तो भारत ही मंदिरों का देश है। देश ही नहीं विदेश से भी लोग भारत के मंदिर घूमने आते है। लेकिन क्या आपको पता है की दुनिया का सबसे बड़ा विष्णु भगवान का मंदिर कहा है।

 

इसकी प्रसिद्धि पूरे विश्व में फैली हुई है। तो आपको बता दें की यह मंदिर भारत में नहीं बल्कि विदेश में है। कंबोडिया के अंकोरवाट में स्थित मंदिर विष्णु भगवान् को समर्पित है। यह दुनिया का सबसे बड़ा पूजा स्थल और पुरातात्विक स्थल भी है। इस मंदिर का पूरा नाम यशोधरपुर था। फ्रांस से आजादी मिलाने के बाद यही मंदिर कंबोडिया की पहचान बन गया। इस मंदिर की तस्वीर कंबोडिया के राष्ट्रिय ध्वज पर भी है।

 

इतिहास की बात करे तो 11 वीं शताब्दी में यंहा सम्राट सूर्यवर्मन द्वितीय का शासन था। बताया जाता है की उन्होंने ही इस मंदिर का निर्माण करवाया था। मिकांक नदी के किनारे बसे इस मंदिर को टाइम मैगजीन ने दुनिया के 5 आश्चर्यजनक चीजों में शुमार किया था। इस मंदिर को 1992 में यूनेस्को ने विश्व विरासत में भी शामिल किया है।

 

साथ ही इस मंदिर का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड में दर्ज किया गया है। इस मंदिर को देखने और विष्णु भगवान के दर्शन करने के लिए हर साल लाखों भक्त भारत समेत कई देशों से यंहा पहुचते है। बताया जाता है की इसे बनाने के लिए पचास से एक करोड़ रेत के पत्थर का इस्तेमाल किया गया है। प्रत्येक पत्थर का वजन डेढ़ टन है। सबसे खास बात है की इस मंदिर की दीवारों पर रामायण और महाभारत की कहानिया भी लिखी हुई है साथ ही देवताओं और असुरों के अमृत मंथन का भी उल्लेख किया गया है।

Facebook Comments