Special : साउथैंटन में 4 साल पहले आपनाई थी परंपरा, इसी मैदान कोहली ने किया इसका अंत

 इंग्लैंड और भारत के बीच खेले जा रहे चौथे मैच में भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने चार साल बाद टीम में बिना बदलाव के टेस्ट मैच खेला है। इससे पहले साल 2014 में टीम बिना किसी बदलाव के खेली थी। विराट ने 39 मैचों में कप्तानी की है और 38 मैचों में लगातार हर मैच में उन्होंन अपने टीम में बदलाव किए है।

सीरीज में 2-0 से पीछे होने के बाद नॉटिंघम टेस्ट में टीम इंडिया ने शानदार जीत दर्ज की थी। साउथहैंपटन में खेले जा रहे इस मैच में भी कोहली उसी टीम के साथ मैदान में उतरे हैं जिसके साथ उन्होंने तीसरे मैच में जीत की थी। टीम में सिर्फ एक मात्र हार्दिक पंड्या ही ऐसे प्लेयर हैं जो टीम से ड्रॉप नहीं किए गए।

इस बात को लेकर क्रिकेट के दिग्गजों और जानकारों ने कोहली की कई बार आलोचना भी की थी साथ ही उनकी कप्तानी को लेकर भी कई सवाल उठे थे। वहीं इस मैच की पहली पारी में टीम के तेज गेंदबाजों को काफी मदद मिली और भारत ने 86 रनों पर अंग्रेजों के 6 विकेट हासिल कर लिए थे। वहीं दूसरी तरफ इंग्लैंड के पुछल्ले बल्लेबाजों के बीच दो अच्छी साझेदारी हुई और दिन का खेल खत्म होने तक मेजबान 246 रन बनाने में सफल रहे।

आपको बता दें कि भारतीय गेंदबाजों ने मैच के पहली गेंद से शानदार प्रदर्शन किया और सिर्फ 36 रन पर इंग्लैंड के चार अहम विकेट झटक लिए थे। लंच के बाद मोहम्मद शमी ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए सेट होते दिख रहे जॉस बटरल (21 रन) को आउट किया।

पांचवा विकेट लेने के बाद बेन स्टोक्स और मोइन अली की जोड़ी क्रीड पर मौजूद थी लेकिन शामी ने इस जोड़ी को भी सेट नहीं होना दिया। उन्होंने स्टोक्स के रूप में इंग्लैंड को छठा झटका दिया। इसी के साथ 35 ओवरों के बाद मेजबान टीम का स्कोर 87-6 रहा।

 

Facebook Comments