आरक्षण की आग में झुलसा महाराष्ट्र, इंटरनेट सेवाएं ठप्प

मराठा क्रांति मोर्चा द्वारा आरक्षण को लेकर किए जा रहे बंद ने आज महाराष्ट्र में भारी कोलाहल मचा रखा है. सरकारी नौकरी और शिक्षा में आरक्षण की मांग कर रहे मराठा क्रांति मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने औरंगाबाद में शिवसेना से सांसद चंद्रकांत खेरे की गाड़ी पर भी हमला कर दिया, चंद्रकांत, गोदावरी में कूदकर आत्महत्या करने वाले युवक के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने जा रहे थे, लेकिन आक्रोशित भीड़ का गुस्सा उनपर ही उतर गया.

औरंगाबाद में बंद का भारी असर देखने को मिल रहा है, यहाँ प्रदर्शनकारियों ने सरकारी गाड़ियों में आग लगा दी है. पुलिस ने बसें जलने और हिंसा फ़ैलाने के आरोप में लगभग दो दर्जन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही प्रशासन ने औरंगाबाद में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी है. औरंगाबाद के अलावा मराठवाड़ा के कुछ दूसरे जिलों में भी आंदोलन का गहरा असर रहा. वहीँ गंगापुर में मराठा मुक्ति मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने सर मुंडवाकर भी विरोध प्रदर्शन किया.

एक 28 वर्षीय युवक काका साहेब दत्तात्रय शिंदे ने गोदावरी नदी में कूद कर जान दे दी, इस पर डीएम उदय चौधरी ने मृतक के परिवार को 10 लाख रु मुआवज़ा देने की पेशकश की है. इसके अलावा आरक्षण की मांग कर रहे 3 प्रदर्शनकारियों ने आत्महत्या की भी कोशिश की, औरंगाबाद के ही जयंत सोनवणे और गुड्डू सोनवणे ने गोदावरी में कूद कर आत्महत्या का प्रयास किया, वहीँ जगन्नाथ ने ज़हर पीकर जान देने की कोशिश की. हालाँकि पुलिस ने तीनों को बचा लिया है, घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है.आपको बता दें कि मराठा क्रांति मोर्चा ने सरकारी नौकरी और शिक्षा में 16 प्रतिशत आरक्षण की मांग की है.

Facebook Comments