13 साल बाद बताया कैसे बची जान, 3 साल की बच्ची को रेप के बाद सड़क पर फैंका

इंग्लैंड में एक लड़की ने अपनी जान बचाने वाले दोनों पुलिस अफसरों से मुलाकात की। इस लड़की को महज 3 साल की उम्र में किडनैप पर लिया गया था। इसके बाद आरोपी ने इसे अपने फ्लैट पर रखकर उसे सेक्शुअली असॉल्ट किया। इसके बाद पुलिस के चंगुल में फंसने के डर से वो बच्ची को कड़कड़ाती ठंड में बिना कपड़ों के सड़क पर फेंक गया। दो पुलिस अफसरों की नजर पर बच्ची पर पड़ी और उन्होंने उसकी जान बचाई। इसके बाद बच्ची के साथ हुए टॉर्चर और किडनैंपिग की कहानी सामने आई।

घटना कार्डिफ की है, जहां रहने वाली एम्मा को 2006 में महज 3 साल की उम्र में घर के बाहर से किडनैप कर लिया गया। इसके बाद उसे कार्डिफ से 14 किमी दूर मौजूद न्यूपोर्ट टाउन में अपने फ्लैट पर रखा और उसे सेक्शुअली असॉल्ट किया गया।  इसी बीच किडनैपर पुलिस की नजर में आ गया। विल्टशायर के पुलिस अफसरों ने उसे कार से रेड लाइट तोड़ते देख लिया। उसने कार की हेडलाइट्स बुझा रखी थी।
PunjabKesari
तभी उसने कार से कुछ बाहर की ओर फेंका। हालांकि, तब तक दोनों अफसर ये समझ नहीं पाए थे कि वो बच्ची है। वहीं आरोपी कार पर अपना कंट्रोल खो बैठा और पकड़ा गया।  अफसर ने करीब जाकर देखा तो सड़के किनारे बिना कपड़े के पड़ी बच्ची रो रही थी। उसके सिर में गहरा घाव था और उससे खून निकल रहा था। वहीं ठंड में वो सिकुड़ी जा रही थी। लड़की ने घटना के 13 साल बाद अपने उन दोनों अफसरों से मुलाकात की, जिन्होंने उसे नई जिंदगी दी थी। उसका कहना है कि वो इन दोनों के रहते हुए खुद को सेफ फील करती है।

PunjabKesari

Facebook Comments