ज़िद्दी बच्चों की परवरिश इस तरह करें…..

आज के समय में माता पिता के लिए बच्चों को सही ढंग से संभालना एक बहुत बड़ी चुनौती बन गई है. वहीं आजकल के बच्चे भी जरूरत से ज्यादा जिद्दी और चिड़चिड़े होते है जो एक बार में माता पिता का कहना नहीं मानते है. कई शोध में भी इस बात का खुलासा भी किया गया है. एक शोध ने बताया कि, जिद्दी बच्चों की परवरिश किस तरह से करनी चाहिए….

जिस तरह एक बच्चा अपने माता पिता की हर बात सुनता है ठीक उसी तरह माता पिता को भी बच्चे की हर बात सुनना चाहिए. वहीं अगर बच्चा जिद्दी है तो उसके बात पहले सुने नहीं तो इस तरह के बच्चें जल्द ही चिड़चिड़ा जाते हैं और जिद्द करने लगते हैं जो सही नहीं है. ध्यान रहे जिद्दी बच्चों से आप किसी भी बात को लेकर जबरदस्ती न करे ऐसा करना उनके लिए सही साबित नहीं होता क्योकि, हो सकता है आप उस टाइम उनको समझा सकते है लेकिन उनका स्वाभाव दूसरे लोगों के लिए सही नहीं रहता है.

सभी बच्चे अपनी इच्छानुसार काम करना चाहता है, जरुरी नहीं जो आप कहे बच्चे वहीं करें. इसलिए अपनी किसी भी बात को मनवाने के लिए उसे आदेश न दे बल्कि उसे प्यार से समझाए. बच्चों से गुस्से में और हर बात चिल्लाकर न कहे इससे वे आपके प्रति गलत सोच रखता है उसको लगता है कि आप उसे प्यार नहीं करते है. सबसे ख़ास बात यह है कि, बच्चों की हर ज़िद पूरी करना बिलकुल भी जरुरी नहीं है.

Facebook Comments